Weather department ने पहले ही शीतलहर चलने का ऑरेंज अलर्ट किया जारी

दिल्ली की ठंड तो हमेशा से ही मशहूर रही है, इस बार भी दिल्ली वालों को ठंड ने घर में घुसे रहने पर मजबूर कर दिया है। पूरा उत्तर भारत कड़ाके की ठंड की चपेट में है। ठिठुरन भरी ठंड का आलम यह है कि 13 जनवरी को Delhi में ठंड ने दो दशक का रिकार्ड तोड़ दिया। इस बार की लोहड़ी 22 वर्षो की सबसे सर्द रही।

अभी अगले 2 दिन तक बर्फीली हवाओं से निजात मिलने के आसार भी नहीं हैं। 13 जनवरी को Delhi का Maximum temperature सामान्य से एक डिग्री कम 18.5 डिग्री सेल्सियस, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 2000 के बाद से अभी तक 13 जनवरी की तारीख का यह सबसे कम Minimum temperature है। 2001 में यह 3.3 °C रहा था और 2006 में 3.6 °C दर्ज हुआ था।

पहाड़ों से आने वाली बर्फीली हवा ने आम जनमानस को घरों में दुबकने को मजबूर कर दिया। Weather department ने राज्य के 7 जिलों मुजफ्फरनगर, मेरठ, बरेली, शाहजहांपुर, हरदोई, कानपुर नगर, सोनभ्रद व उसके आसपास इलाकों में 15 जनवरी तक शीतलहर की चेतावनी दी है।

WHO की टीम चीन पहुंची

इस पूरे हफ्ते तापमान बढ़ने की कोई खास संभावना नहीं है। बता दें कि मौसम विभाग ने अगले 3 दिनों के लिए उत्तर भारत में ठंड का Orange alert जारी किया है। एक तरफ जहां उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ रही है तो दूसरी तरफ दक्षिण भारत में भारी बारिश के आसार हैं। Cyclone effect के कारण तमिलनाडु, पुड्डुचेरी, कराईकल, केरल, माहे में अगले 2-3 दिन बारिश होने की संभावना है। Delhi में आज सुबह Minimum temperature 4.8°C दर्ज किया गया। Weather department की माने तो अभी ठंड और बढ़ेगी। Minimum temperature के गिरकर 3 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की उम्मीद है। इसको देखते हुए North India के मैदानी इलाकों के लिए ठंड का Orange alert जारी किया गया है।

कश्मीर में भी ठंड रिकार्ड बना रही है। 8 साल बाद मंगलवार-बुधवार की रात यहां का न्यूनतम तापमान माइनस 7.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। श्रीनगर और उसके साथ लगते पहाड़ी इलाकों में पानी के नल, झीलें, तालाब और अन्य जल स्त्रोत जम गए हैं।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं