Tokyo Olympics में इन दिनों भारत के प्लेयर्स अपना कमाल दिखा रहे हैं। Neeraj Chopra ने पूल ए क्वॉलिफाइंग राउंड के अपने पहले ही प्रयास में 86.65 मीटर भाला फेंककर फाइनल क्वॉलिफाइ कर लिया। वहीं पूल बी में पाकिस्तान के नदीम अरशद टॉप पर रहे जिन्होंने 85.16 मीटर भाला फेंका। नदीम ने भी ऑटोमैटिक क्वॉलिफाइ किया।

Olympic में भाग ले रहे Neeraj Chopra ने अपने पहले फाइनल राउंड में जगह बनाने के लिए कुछ ही समय लिया। फाइनल के लिए क्वॉलिफिकेशन मार्क 83.50 मीटर का था। ग्रुप ए में भाग लेने वाले Neeraj Chopra ने बड़ी ही आसानी से इसे पार कर लिया। फिनलैंड के लैसी एतेलातेलो ने भी 84.50 मीटर भाला फेंककर सीधे फाइनल के लिए क्वॉलिफाइ किया।

पूर्व विश्व जूनियर चैंपियन चोपड़ा ग्रुप ए में 16 खिलाड़ियों के बीच शीर्ष पर रहे। उनका निजी और सत्र का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 88.07 मीटर है जो उन्होंने मार्च 2021 में पटियाला में इंडियन ग्रां प्री 3 में बनाया था।

23 वर्षीय Neeraj Chopra ने अपने पहले प्रयास के बाद बाकी दो प्रयास नहीं किए। वह एरिना से बाहर चले गए। बता दें कि जैवलीन थ्रो में ऐथलीट को कुल तीन प्रयास मिलते हैं जिसमें से उसके सर्वश्रेष्ठ वैध प्रयास को गिना जाता है।

पुरुषों का जैवलीन थ्रो फाइनल सात अगस्त को भारतीय समयानुसार दोपहर 4:30 से खेला जाएगा। फाइनल के लिए क्वॉलिफिकेशन का मार्क 8.50 मीटर था। या कम से कम 12 टॉप परफॉर्मर फाइनल तक जगह बनाएंगे। कुल 32 जैवलीन थ्रोअर्स को दो ग्रुप में बांटा गया है। इन दो ग्रुप्स में से प्रदर्शन के आधार पर फाइनल के खिलाड़ियों का चयन होगा।

यह भी पढ़ें: जानें Sjoerd Marijne ने किस तरह भारतीय महिला हॉकी टीम को फर्श से अर्श तक पहुंचाया

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है