छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुई नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में लापता होने के बाद CRPF जवान Rakeshwar Singh Manhas की तस्वीर हाल ही में सामने आई है। माओवादियों के द्वारा जारी की गई इस तस्वीर में Rakeshwar एक अस्थायी आश्रय में प्लास्टिक की मैट पर बैठे नज़र आ रहें हैं, जो कि देखने मे एक माओवादी कैम्प लग रहा है। राकेश्वर सिंह की फोटो जारी कर नक्सलियों ने जवान के सुरक्षित होने का दावा किया है। इससे पहले नक्सलियों ने स्थानीय मीडियाकर्मियों को एक पत्र के ज़रिए जवान के उनके कब्जे मे होने की पुष्टी की थी।

स्थानीय पत्रकार ने किया बड़ा खुलासा- जवान को लगी है गोली

छत्तीसगढ़ के ही एक स्थानीय पत्रकार गणेश मिश्रा ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया है कि जवान Rakeshwar Singh Manhas नक्सलियों के कब्जे में हैं। गणेश मिश्रा ने मीडियाकर्मियों से बात करते हुए बताया कि, ‘मुझे नक्सलियों के दो फोन कॉल आए हैं कि एक जवान उनकी गिरफ्त में है। उन्होंने कहा कि जवान को गोली लगी है और उसे मेडिकल ट्रीटमेंट दी गई है। नक्सलियों ने कहा कि जवान को 2 दिनों में रिहा कर दिया जाएगा  साथ ही जवान का वीडियो और फोटो जल्द ही जारी किया जाएगा।’

नक्सली हमले में शहीद हुए थे 22 जवान

शनिवार (3 अप्रैल) को छत्तीसगढ़ के बीजापुर में CRPF जवानों और नक्सलियों के बीच घातक मुठभेड़ हुई थी। इस मुठभेड़ में CRPF के 22 जवान शहीद हो गए और 31 जवान घायल हुए थे। लेकिन उनमें से जवान Rakeshwar Singh Manhas लापता हो गए थे।

यह भी पढ़ें: UP Panchayat Election: EC हुआ सख़्त, चाय, समोसा और चम्मच तक के दाम किए तय

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है