सितम्बर से इस एक्ट के लागू होने के बाद देश भर से भारी मात्रा में चालान कटने की खबरें सामने आ रही है। यहाँ तक कि लोगों ने हाथ जोड़ कर कान पकड़ कर माफी भी मांगी है।

मोटर व्हीकल एक्ट यानी कि मोटर यान एक्ट जिसमें सरकार ने सशोंधन किया है। जिसको अब देश में संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट 2019 के तहत 2 सितंबर से लागू किया गया है। आपको बता दें  कि इस एक्ट के तहत गलत ड्राइविंग करने वालों को भारी जुर्माना दें ना पड़ेगा साथ ही जेल जाने की भी नौबत आ सकती है।

मोटर व्हीकल एक्ट में हुआ सशोंधन, तो लोगों ने हाथ जोडकर कान पकड़ कर मांगी माफी

मोटर यान विधेयक- 2019 जोकि पहले राज्यसभा में पास हुआ था और उसके बाद इस एक्ट को राष्ट्रपति की भी मंजूरी मिली। अब ये विधेयक कानून बन चुका है। आपको बता दें कि ये संशोधित बिल रोड सेफ्टी को बढ़ाने और हादसों की संख्या को कम करने के लिए सख्त किया गया है।

मोटर व्हीकल एक्ट में हुआ सशोंधन, तो लोगों ने हाथ जोडकर कान पकड़ कर मांगी माफी

आपको बता दें कि ताजा मामला राजस्थान का है जहां पुलिस ने कैबिनेट मंत्री का ही चालान काट दिया। कैबिनेट मंत्री प्रमोद भाया जो कि बारां. विधानसभा चुनाव से खनन और गोपालन विभाग के मंत्री हैं। बीते दिन अपनी पत्नी के साथ मोटरसाइकिल में बिना हेलमेट ही रोड़ पर निकल गए। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया और 200 का चालान काट दिया। हालांकि राजस्थान में अभी ये एक्ट लागू नही हुआ है। पर देश में ट्रैफिक को लेकर सख्ती को देखते हुए अब राजस्थान पुलिस भी पीछे नही हट रही है।

नज़र हटी जेब कटी! चार दिनों में ट्रैफिक पुलिस ने जमा की इतनी रकम!

ये तो बात थी राजस्थान की, पर 2 सितम्बर से इस एक्ट के लागू होने के बाद देश भर से भारी मात्रा में चालान कटने की खबरें सामने आ रही है. यहाँ तक कि लोगों ने हाथ जोड़ कर कान पकड़ कर माफी भी मांगी है, साथ ही ऐसी गलती दोबारा नही दोहराने की बात भी कही है पर पुलिस इस एक्ट के सामने किसी की भी सुनने को तैयार नही है।

मोटर व्हीकल एक्ट में हुआ सशोंधन, तो लोगों ने हाथ जोडकर कान पकड़ कर मांगी माफी

अब देखने वाली बात तो ये है कि इस एक्ट के आने से लोग कितनी जल्दी जागरुक होते हैं और ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करके देश में सड़क हादसो की संख्या में कमी लाते है  या नहीं।

घर से बाहर निकलने से पहले पढ़े नए ट्रैफिक नियम, नही तो देना पड़ सकता भारी जुर्माना…