प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ( Narendra Modi)  ने आज असम के तामूलपुर में दावा किया कि दो दौर के मतदान के बाद साफ हो गया है कि राज्य में बीजेपी सरकार की वापसी हो रही है। तामूलपुर में चुनावी रैली के दौरान मोदी ने कहा कि असम को हिंसा में झोंकने वालों को जनता ने नकार दिया है। असम ( Assam)  के लोग अब विकास, स्थिरता, शांति और भाईचारा चाहते हैं।

असम में तीन चरणों के तहत हो रहे चुनाव में 6 अप्रैल को अंतिम दौर की 40 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। पहले चरण में 39 सीट और दूसरे चरण की 47 सीटों को लेकर पीएम मोदी बीजेपी की जीत के दावे कर रहे हैं। तीसरे चरण के लिए वोट मांगते हुए मोदी ने जनता से कहा कि बीजेपी की डबल इंजन की सरकार असम को विकास के नए सोपान पर ले जाएगी।

बोडो समझौते का जिक्र करते हुए मोदी ( Narendra Modi)  ने दावा किया कि शांति आने के बाद सबसे ज़्यादा माताओं-बहनों को फायदा हुआ। इसलिए इतनी बड़ी तादात में महिलाओं को देखकर बहुत खुश हूं। मैं सभी माताओं-बहनों को वचन देता हूं अब असम के किसी भी बेटे को बंदूक नहीं उठानी पड़ेगी। आपके बेटे के सपने पूरे करने के लिए हम लगे रहेंगे। आपके बच्चों को जंगलों में जिंदगी गुजारने को मजबूर न होना पड़े, और किसी की गोली का शिकार न होना पड़े इसके लिए एनडीए सरकार प्रतिबद्ध है।

आपके बच्चे भी DU के सेंट स्टीफंस College में पढ़ते हैं तो ये ख़बर आपके लिए है ज़रूरी

कांग्रेस सहित विरोधी पार्टियों पर हमला करते हुए मोदी ( Narendra Modi)   बोले- असम को कई दशकों तक हिंसा और अस्थिरता देने वाले, अब असम के लोगों को कतई स्वीकार नहीं है। ऐसे लोगों को जनता ने नकार दिया है। असम के लोग अब विकास, स्थिरता, शांति और भाईचारा चाहता हैं. और इसी सद्भावना के साथ वे हैं।

पीएम मोदी ( Narendra Modi)  ने कहा कि एनडीए की डबल इंजन सरकार ने पिछले पांच सालों में असम को लोगों को दुगना लाभ दिया है। विकास हो रहा है और क्नेक्टिविटी में सुधार हुआ है। इस वजह से महिलाओं का जीवन भी सरल हो गया है। युवाओं के लिए रोजगार के अवसर लगातार बढ़ रहे हैं। हमारा तो मंत्र है सबका साथ, सबका विश्वास।

पीएम मोदी ( Narendra Modi)  के भाषण के दौरान एक युवक की तबीयत बिगड़ गई, जिसके बाद मोदी ने भाषण को बीच में रोक दिया। उन्होंने अपनी मेडिकल टीम के डॉक्टर्स को बीमार की मदद करने भेजा। इसके बाद फिर भाषण आगे बढ़ाया। मोदी ने तुष्टीकरण पर हमला बोलते  हुए कहा कि एक बड़े तबके के साथ भेदभाव करने वाले इसे सेक्युलरिज्म कहते हैं। वोट बैंक के लिए कम्युनल, सेक्युलरिज्म और कम्यूनिज्म के इस खेल को अब जनता समझ गई है। हमारी सरकार सबका साथ और सबका विकास चाहती है। केन्द्र की सभी योजनाओं का फायदा सभी जाति और धर्म के लोगों को मिलता है। सभी गरीबों को पक्का मकान मिल रहा है, हर जनजाति को गैस कनेक्शन और शौचालय मिल रहा है। इसी तरह पीएम किसान योजना का लाभ भी हर तबका उठा रहा है। किसी भी योजना में कोई  भेदभाव नहीं है, इसके बाद भी हमें बदनाम किया जाता है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है