उत्तर प्रदेश के चित्रकूट (Chitrakoot) में उस समय हड़कंप मच गया, जब यहां जेल के अंदर ताबड़तोड़ फायरिंग होने की सूचना आई. पता चला कि चित्रकूट जिला जेल (Chitrakoot District Jail) के हाई सिक्योरिटी बैरक में गोलियां चली हैं. इस गोलीकांड में तीन लोगों के मौत की खबर है. मौके पर जिले के तमाम आलाधिकारी पहुंच गए हैं और जांच चल रही है. उधर जेल में शूटआउट की खबर से लखनऊ (Lucknow) तक हड़कंप मच गया है.

पुलिस से मिली जानकरी के अनुसार जेल में निरुद्ध अंशुल दीक्षित (Anshul Dixit) नामक बंदी को कहीं से कट्टा मिल गया. इसके बाद उसने यहां बंद मेराजुद्दीन उर्फ मेराज अली और मुकीम उर्फ काला पर गोली चला दी. हमले में दोनों की मौत हो गई. मुकीम काला पश्चिम यूपी (West UP) का बड़ा बदमाश बताया जा रहा है.जानकारी के अनुसार मुकीम काला वही अपराधी है, जिसने एनआईए के अफसर तंजील अहमद (Officer Tanjil Ahmed) को दिन दहाड़े मौत के घाट उतार दिया था. वहीं जवाबी कार्रवाई में Anshul Dixit को पुलिस ने मार गिराया है. घटना की सूचना के बाद प्रशासन और पुलिस में हड़कंप मचा हुआ है. डीएम और एसपी (DM, SP) मौके पर मौजूद हैं.

पता चला है कि मारा गया मेराजुद्दीन बांदा (Merajuddin Banda) जेल में बंद माफिया मुख़्तार अंसारी (Mafia mukhtar ansari) का करीबी था. 20 मार्च 2021 को वाराणसी जेल से Chitrakoot जेल उसका ट्रांसफर हुआ था. मुकीम काला 7 मई 2021 को चित्रकूट जेल आया था. वहीं Anshul Dixit 8 दिसंबर 2019 से चित्रकूट जेल में था. वारदात आज सुबह 10 बजे की है.

Chitrakoot जेल से प्राप्त सूचना के अनुसार जिला जेल चित्रकूट की उच्च सुरक्षा बैरक में निरुद्ध Anshul Dixit पुत्र जगदीश जिला जेल सुल्तानपुर से प्रशासनिक आधार पर स्थानांतरित होकर Chitrakoot में निरूद्ध था. उसने शुक्रवार सुबह लगभग 10 बजे सहारनपुर से प्रशासनिक आधार पर आए बंदी मुकीम काला और वाराणसी जिला जेल से प्रशासनिक आधार पर आए मेराज अली को असलहे से गोली मारकर हत्या कर दी. इस दौरान उसने 5 अन्य बंदियों को अपने कब्जे में कर लिया और उन्हें जान से मारने की धमकी देने लगा. उसके पास असलहा था ऐसे में जिला प्रशासन को सूचना दी गई.

Chitrakoot के डीएम और एसपी (DM, SP) मौके पर पहुंचे और बंदी को नियंत्रित करने का बहुत प्रयास किया. लेकिन वह 5 अन्य बंदियों को भी मार देने की धमकी देता रहा. police के अनुसार उसकी आक्रामकता तथा जिद को देखते हुए पुलिस द्वारा कोई विकल्प ना देखते हुए फायरिंग की गई, जिसमें Anshul Dixit भी मारा गया. कुल 3 बंदी इस घटना में मरे हैं.

यह भी पढ़ें: Corona से जंग में उतरा तीसरा हथियार, स्पूतनिक-V का लगा पहला टीका

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है