महबूबा मुफ्ती ने एकबार फिर दिया विवादित बयान, राज्य में बंदूक उछाने वालों का किया समर्थन

0
221

जम्मू-कश्मीर: पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती लगातार विवादित बयान दे रहीं हैं। इसी कड़ी में सोमवार को भी मुफ्ती ने एकबार फिर विवादित बयान देते हुए राज्य में बंदूक उठाने वालों का समर्थन कर दिया है। महबूबा मुफ्ती ने इस दौरान कहा कि जब नौकरी नहीं होगी तो यहां के लड़के बंदूक ही उठाएंगे।

अनुच्छेद 370 के हटाये जाने के बाद से पूर्व मुख्यमंत्री का लगातार सियासी जड़ें कमजोर होती जा रही है, जिसकी बौखलाहट साफ दिखाई दे रहा है। उन्होने कहा कि 370 हटाने के बाद बीजेपी की मंशा जम्मू-कश्मीर की जमीन और नौकरी छीनने की है। उन्होंने आगे कहा, ‘डोगरा संस्कृति को बचने के लिए 370 था। कहीं डोगरा संस्कृति ही लुप्त न हो जाए, चाहे मुल्क का झंडा हो या जम्मू कश्मीर का झंडो हो, वह हमें संविधान ने दिया था, इन्होंने हमसे वह झंडा छीन लिया।

महबूबा ने बीजेपी की तुलना अमेरिका चुनाव से करते हुए कहा कि  ‘आज इनका (बीजेपी) वक्त है, कल हमारा आएगा। इनका भी ट्रम्प वाला हाल होगा। बॉर्डर्स के रस्ते खुलने चाहिए। जम्मू-कश्मीर दोनों मुल्कों के बीच अमन का पुल बने। हमारा झंडा हमें वापस दो। हम चुनाव इकट्ठे लड़ रहे हैं। जम्मू कश्मीर के टुकड़े कर दिए गए हैं, इन ताकतों को दूर करने के लिए हमने हाथ मिलाया है।