Coronavirus के ख़तरे को देखते हुए सभी जगह 10वीं 12वीं की परीक्षा की स्थगित कर दी गई। अभी भी सभी जगह ऑनलाइन एजुकेशन को बढ़ावा दिया जा रहा है। ऐसे में उत्तर प्रदेश सरकार ने Madrasa शिक्षकों को ऑनलाइन टीचिंग में अधिक कुशल बनाने के लिए ट्रेनिंग कार्यक्रम आयोजित करने का फैसला किया है। ये जानकारी अधिकारियों ने दी है। उन्होंने कहा कि राज्य के प्रशासनिक अधिकारी, शिक्षाविद और आईआईएम व आईआईटी के छात्र UP Madrasa Board के तहत नामांकित छात्रों की ऑनलाइन एजुकेशन के लिए मदरसा शिक्षकों को ट्रेनिंग देंगे।

इससे पहले Corona संक्रमण की स्थिति को देखते हुए उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार ने 2020-2021 सेशन के लिए UP Mabdrasa Education Council की कक्षा 10 और कक्षा 12की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द कर दिया है। एक ऑफिशियल रिलीज में कहा गया है कि कक्षा एक से आठवीं, नौवीं और ग्यारहवीं कक्षा के छात्रों को अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा।

UP Madrasa Board, भाषा समिति के सदस्य दानिश आजाद ने कहा कि Covid-19 महामारी के मद्देनजर मदरसों में भी छात्रों की ऑनलाइन शिक्षा शुरू हो गई है। उन्होंने बताया कि बोर्ड की ओर से बुधवार को ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। आजाद ने कहा कि UP Madrasa Board भाषा समिति के सहयोग से छात्रों की ऑनलाइन कक्षाएं लेने के लिए शिक्षकों की डिविजन वाइज ट्रेनिंग सेशन शुरू कर रहा है। Madrasa शिक्षकों को ऑनलाइन एजुकेशन ट्रेनिंग देने के लिए कुछ पूर्व और वर्तमान आईआईटी और आईआईएम छात्रों के साथ बातचीत चल रही है और कई ने बोर्ड के अनुरोध पर सहमति जताई है।

यह भी पढ़ें: Solar Eclipse 2021: आज लगेगा सूरज को ग्रहण, जानें कैसा होगा वलयाकार Surya Grahan

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है