नई दिल्ली

देश में कोरोना वायरस की रफ्तार बेहद खतरनाक हो चुकी है। एक दिन में Coronavirus संक्रमण के रिकॉर्ड 1.50 लाख से अधिक नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद पहली बार उपचाराधीन मरीजों की संख्या 11 लाख के पार पहुंच गई है। महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, पंजाब, गुजरात, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में राज्य सरकारों ने सख्त पाबंदियां लगानी शुरू कर दी है। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में वीकेंड Lockdown लगाया है, जबकि दिल्ली सरकार ने सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। मध्य प्रदेश के कई जिलों में लॉकडाउन को आगे बढ़ा दिया गया है।

दिल्ली में धार्मिक, सामाजिक कार्यक्रमों पर पाबंदी

कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए दिल्ली सरकार ने शादी समारोह और अंतिम संस्कार में भागीदारी को सीमित कर दिया है। आदेश में कहा गया है कि भीड़ जमा होने वाले सभी सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों पर रोक रहेगी। इसके अलावा मेट्रो और बसों में 50 फीसद यात्री ही सफर कर सकेंगे। साथ ही बार, रेस्टोरेंट और सिनेमाहाल में 50 फीसद की अनुमति होगी।

महाराष्ट्र में लॉकडाउन पर विचार

महाराष्ट्र में कोरोना की बिगड़ती स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार पाबंदियों को और सख्त बनाने पर विचार कर रही है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि हालात को नियंत्रित करने के लिए लॉकडाउन के सिवाय दूसरा कोई विकल्प नहीं दिख रहा है। राज्य सरकार ने शुक्रवार रात से लेकर सोमवार सुबह 7 बजे तक वीकेंड लॉकडाउन लगाया हुआ है।

यह भी पढ़ें: आज से दफ्तरों में भी Corona vaccination, जानिए किन दफ्तरों में लगेगा टीका

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है