ट्रो यार्ड के निर्माण के लिए आरे वन में 2700 से अधिक पेड़ों को काटे जाने के सरकार के फैसले का हर ओर विरोध हो रहा है।

आजकल मोदी सरकार एक के बाद एक बड़े फैसले लेने में लगी हुई है। मोदी सरकार के कुछ फैसलों के बाद देश में खुशी देखी जा रही है तो कुछ फैसलों का विरोध भी देखने को मिल रहा है। लेकिन मोदी सरकार एक के बाद एक फैसले लेने में लगी है और अपने हर फैसले पर अडिग खड़ी है।

मोदी सरकार के वाहनों पर नए नियमों पर कमलनाथ सरकार ने किया बड़ा ऐलान…

1 महीने के अंदर ही मोदी सरकार ने कई बड़े फैसले ले लिए हैं जिसमें तीन तलाक बिल पास कराना और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना प्रमुख है। उसके बाद हाल ही में मोदी सरकार ने असम में एनआरसी लिस्ट जारी कर दी है जिसमें 1900000 भारतीयों का नाम ही शामिल नहीं है। लिस्ट जारी होने के बाद से ही राजनीति अपने चरम पर हैं। इसके बाद मोदी सरकार ने यातायात के नए नियम लागू कर दिए हैं। इसका विरोध भी जोर शोर से देखने को मिल रहा है। अब सरकार के एक और काम पर लता मंगेशकर का भी विरोध देखने को मिल रहा है।

दरअसल मेट्रो यार्ड के निर्माण के लिए आरे वन में 2700 से अधिक पेड़ों को काटे जाने के सरकार के फैसले का हर ओर विरोध हो रहा है। इसके विरोध में अभिनेत्री श्रद्धा कपूर सड़कों पर उतर आई थी और उनसे अलग कई अभिनेत्री और अभिनेताओं ने ट्विटर पर पेड़ों के काटे जाने का विरोध किया था। लता मंगेशकर ने एक ट्वीट करते हुए लिखा है कि मेट्रो सेट के लिए 700 से अधिक पेड़ों की हत्या करना, आरे के जीव सृष्टि को और सौंदर्य को हानि पहुंचाना बहुत दुख की बात होगी। मैं सरकार के इस फैसले का पुरजोर विरोध करती हूं और चाहती हूं कि सरकार अपने निर्णय पर फिर से एक बार विचार कर ले।