आजादी के जश्न मे डूबा लद्दाख, सांसद नामग्याोल ने किया ऐसे…

0
405

लद्दाख के लिए यह स्‍वतंत्रता दिवस कई मायनों में खास है।

देश आज 73वें स्‍वतंत्रता दिवस के जश्‍न में डूबा है। लद्दाख के लिए यह स्‍वतंत्रता दिवस कई मायनों में खास है। अनुच्‍छेद 370 हटने के बाद लद्दाख को अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाने की घोषणा हो चुकी है। गुरुवार को लेह में भी स्‍वतंत्रता दिवस समारोह मनाया गया। इस समारोह में लद्दाख के सांसद जामयांग सेरिंग नामग्‍याल ने लोगों के साथ झूमकर डांस किया। समारोह के वीडियो में दिख रहा है कि लद्दाख के लोग सरकार के इस निर्णय से बेहद खुश हैं। यह वीडियो लेह के एयरपोर्ट के बाहर का है।

<blockquote class=”twitter-tweet”><p lang=”en” dir=”ltr”>The residents believe firmly in the principal of environmental conservation. Following this norm, they have taken a pledge of no crackers even for the celebrations. <br>This video shows how celebrations can happen in an eco-friendly environment. <a href=”https://twitter.com/hashtag/NewLadakh?src=hash&amp;ref_src=twsrc%5Etfw”>#NewLadakh</a> <a href=”https://t.co/tP3CNj0lym”>pic.twitter.com/tP3CNj0lym</a></p>&mdash; Jamyang Tsering Namgyal (@MPLadakh) <a href=”https://twitter.com/MPLadakh/status/1160630796350136320?ref_src=twsrc%5Etfw”>August 11, 2019</a></blockquote> <script async src=”https://platform.twitter.com/widgets.js” charset=”utf-8″></script>

लद्दाख से बीजेपी सांसद जामयांग सेरिंग नामग्‍याल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर तस्‍वीरें भी शेयर की हैं। उन्‍होंने गुरुवार को स्‍वतंत्रता दिवस के अवसर पर लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाने का मुद्दा उठाने वाले एचएच कुशक बाकुला रिनपोचे को भी श्रद्धांजलि दी। उन्‍होंने शहीदों को भी श्रद्धांजलि दी। उन्‍होंने गुरुवार को उन चार व्‍यक्तियों को भी श्रद्धांजलि दी, जिनकी जान लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिलाने के आंदोलन में चली गई थी। 

बता दें कि जामयांग ने लोकसभा में अपने 17 मिनट के भाषण में कश्मीर पर सरकार के फैसले का स्वागत किया था और कहा था कि लद्दाख के लोगों की दलील आखिरकार स्वीकार कर ली गई उन्होंने कहा था, “मोदी है, तो मुमकिन है।” जामयांग ने कहा था, “अनुच्छेद-370 के खत्म होने के बाद कश्मीर के माननीय सदस्य कह रहे थे कि हम हार जाएंगे। वैसे मैं कहूंगा कि अब दो परिवार अपनी आजीविका खो देंगे।”