पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन मोहम्मद फैसल ने ट्वीट कर बताया की 2 सितम्बर 2019 को कुलभूषण जाधव को काउंसलर एक्सेस दे दिया जाएगा।

पाकिस्तान  विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन मोहम्मद फैसल ने ICJ के फैसले के दबाव में आकर आखिरकार कुलभूषण जाधव को काउंसलर एक्सेस दे दिया है। भारत ने भी पाकिस्तान के इस प्रस्ताव को हरी झंडी दिखा दी है। सूत्रों के अनुसार भारत के डिप्टी कमिश्नर गौरव अहलूवालिया कुलभूषण जाधव से मिलने पाकिस्तान पहुंच गए है। गौरव अहलूवालिया और मोहम्मद फैसल के साथ जाधव की बैठक शुरू हो गई है, ये बैठक लगभग 2 घंटे तक चलेगी।

कुलभूषण जाधव मामले में भारत ने ठुकराया पाकिस्तान का प्रस्ताव, ये हैं तीन शर्तें!

आपको बता दें कि 3 मार्च 2016 को पाकिस्तान ने पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को ईरान से गिरफ्तार किया था। पाकिस्तान ने जाधव पर यह आरोप लगाया की वह ईरान से पाकिस्तान में घुसपैठ करने के इरादे से आया है। हालांकि भारत ने इस बात से इंकार कर दिया था और यह भी बताया कि जाधव नौसेना से सेवानिवृत्त होने के बाद वहां व्यापार कर रहे थे। पाकिस्तान ने 2017 में जाधव को फाँसी की सजा सुनाई थी। पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव को काउंसलर एक्सेस देने से भी इंकार कर दिया था। अगस्त 2019 में इस मामले पर ICJ बैठक की गई थी जिसमे फैसला भारत के पक्ष में आया था। उस वक़्त पाकिस्तान ने जाधव को काउंसलर एक्सेस देने की बात और तीन शर्तें भी रखी। पाकिस्तान की उन शर्तों को भारत ने मानने से इंकार कर दिया था।

कुलभूषण जाधव को मिला काउंसलर एक्सेस, पाकिस्तान में बैठक जारी

भारत इस फाँसी को रोकने के लिए 8 मई 2017 को ICJ पंहुचा था। भारत ने यह भी बताया की पाकिस्तान ने वियना कन्वेंशन का उल्लंघन किया है। ICJ बैठक में फैसला भारत के पक्ष में आया और पाकिस्तान को दबाव में आ कर कुलभूषण को काउंसलर एक्सेस देना ही पड़ा। हालांकि यह ICJ बैठक के दो दिन बाद होना था पर पाकिस्तान ने 6 हफ़्तों बाद इस मामले का ज़िक्र किया।

कुलभूषण जाधव मामले पर फैसला, सच्चाई की जीत हुई – पीएम मोदी

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन मोहम्मद फैसल ने ट्वीट कर बताया की 2 सितम्बर 2019 को कुलभूषण जाधव को काउंसलर एक्सेस दे दिया जाएगा।