Coronavirus का ख़तरा देखते हुए लोग सफर कम ही कर रहे हैं वहीं काफी वक़्त तक तो Indian Railway ने Train सेवा शुरू ही नहीं की थी। हालात ठीक होते ही Train सेवा चालू तो हो गई लेकिन एक Train ऐसी भी है जिसमें कोई यात्री सफर करते नहीं देखा जा रहा है। थावे से छपरा कचहरी तक जाने वाली एक ऐसी Unreserved Express Train है जिसमें एक यात्री भी नहीं था। बस Train के चालक, Assistant Driver और पीछे के डिब्बे में एक गार्ड। महज 3 लोगों के साथ थावे-छपरा कचहरी Unreserved Express 3 घंटे में 103 Kilometer की यात्रा कर डाली।

21 मार्च को 10 जनरल बोगियों के साथ रवाना हुई उस Train को न तो थावे स्टेशन पर यात्री मिले और न ही रास्ते में पड़ने वाले 25 अन्य स्टेशनों पर। ट्रेन अपने निर्धारित समयानुसार हर Station पर रुकती और दिए गए स्टापेज के पूरा हो जाने के बाद चल देती। Train अपने निर्धारित समय रात 10 बजे छपरा कचहरी पहुंच गई लेकिन उसमें एक भी यात्री नहीं उतरे। उतरे तो सिर्फ गार्ड और दोनो चालक।

देखते ही देखते फिर से बढ़े Corona के मामले, देश में मिले 53,364 नए केस

बीते 8 March से शुरू हुई Unreserved Express Trains में किराया Express के बराबर होने से शुरू से ही इस तरह की ट्रेनों में यात्रियों ने रुचि नहीं दिखाई। ट्रेनों में यात्रियों की संख्या जानने के लिए एनई रेलवे ने जब मंडलवार Report मांगी तो सामने आया कि Varanasi मण्डल के थावे-छपरा रूट पर चलने वाली थावे-छपरा कचहरी Unreserved Express की यात्री आक्यूपेंसी 21 मार्च की तारीख में शून्य थी जबकि उसमें कुल सीटों की संख्या 772 है। जबकि जौनपुर से औड़िहार जाने वाली ट्रेन की यात्री आक्यूपेंसी महज 2 फीसदी थी। इसमें सीटों की संख्या 740 है और यात्रियों की संख्या महज 15 थी। वहीं Gorakhpur-Siwan Passenger की 772 सीट क्षमता वाली ट्रेन मे 21 मार्च को महज 19 फीसदी यानी 143 यात्रियों ने ही यात्रा की।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है