न हों परेशान, 99 प्रतिशत डिपॉजिटरों को मिलेगी पूरी रकम वापस

कोरोना काल में RBI ने महाराष्ट्र के उस्मानाबाद में स्थित वसंतदादा नगरी Cooperative bank का लाइसेंस रद्द कर दिया है। RBI ने कहा कि बैंक अपनी मौजूदा वित्तीय स्थिति के हिसाब से अभी के जमाकर्ताओं का पूरा पैसा वापस नहीं कर पायेगा। जिस वजह से ही Bank का लाइसेंस रद्द किया गया है।

Reserve Bank of India ने महाराष्ट्र के उस्मानाबाद स्थित बैंक का लाइसेंस रद्द करने की वजह उसका Banking regulation act की अनिवार्य शर्तों का पूरा करने में विफल रहना बताया है। बता दें कि RBI के लाइसेंस रद्द करने के बाद वसंतदादा नगरी सहकारी बैंक 11 जनवरी 2021 से अपनी बैंकिंग गतिविधियां संचालित नहीं कर सकेगा। महाराष्ट्र के सहकारी आयुक्त और Registrar of Co-operative Societies ने भी बैंक का कामकाज बंद करने और उसके परिसमापन (लिक्विडेशन) के लिए एक परिसमापक (लिक्विडेटर) नियुक्त करने का आदेश जारी करने का अनुरोध किया था।

हरियाणा में सरकारी नौकरियों की भर्ती के लिए होगा कॉमन एंट्रेस टेस्ट

Central bank ने कहा कि Cooperative bank का लाइसेंस रद्द करने और परिसमापन की प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही वसंतदादा नगरी सहकारी बैंक के जमाकर्ताओं का पैसा लौटाने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी जाएगी। Reserve Bank ने कहा कि परिसमापन के बाद जमा बीमा एवं कर्ज गारंटी निगम से जमाकर्ता 5 लाख रुपये तक का जमा पाने के पात्र होंगे। इस तरह सहकारी बैंक के 99 प्रतिशत से अधिक जमाकर्ताओं को पूरी रकम वापस मिल जाएगी। Cooperative bank का लाइसेंस सोमवार को कारोबार समाप्त होने के बाद से रद्द माना जायेगा। इसके बाद Cooperative bank परिचालन नहीं कर सकेगा।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं