शुरुआत से ही कश्मीर की लड़कियों को बहुत खूबसूरत माना जाता है लेकिन पहले अनुच्छेद 370 की वजह से वहां की लड़कियों से किसी दूसरे राज्य के लड़के शादी नहीं कर पाते थे।

खूबसूरती पर किसी जाति, धर्म और सरहदों का बंधन नहीं होता है। खूबसूरत इंसान कहीं भी पैदा हो सकता है यह किसी एक जाति, धर्म, शहर या किसी देश में ही पैदा हो यह जरूरी नहीं है। लेकिन कुछ लोग इसे दूसरे नजरिए से भी देखते हैं। कुछ शहरों और राज्यों की लड़कियों को सबसे ज्यादा खूबसूरत माना जाता है।

कश्मीरी लड़कियों को गूगल पर सर्च करने में ये राज्य सबसे आगे...
शुरुआत से ही कश्मीर की लड़कियों को बहुत खूबसूरत माना जाता है लेकिन पहले अनुच्छेद 370 की वजह से वहां की लड़कियों से किसी दूसरे राज्य के लड़के शादी नहीं कर पाते थे, लेकिन जब से अनुच्छेद 370 हटाया गया है तब से ही लोग वहां की लड़कियों से शादी के बारे में सोचने लगे हैं। हाल ही में देखा गया है कि गूगल पर सबसे ज्यादा कश्मीरी लड़कियों को सर्च करने वाले कुछ राज्य के लड़के सबसे आगे हैं।

भारत की जेल से भागे आतंकी मसूद अज़हर का अनुच्छेद 370 पर बड़ा बयान, कहा कश्मीर में…

1. पश्चिम बंगाल

बंगाल के लोग कश्मीरी लड़कियों के बारे में जानने के लिए हमेशा उत्सुक रहते हैं और वह गूगल पर हमेशा इसे सर्च भी करते रहते हैं। अब जब से अनुच्छेद 370 खत्म किया गया है तब से यह संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। कश्मीरी लड़कियों को सबसे ज्यादा सर्च करने वाले राज्यों में पहले नम्बर पर पश्चिम बंगाल है।

2. झारखंड

ऐसे तो बिहार और झारखंड के लोगों को एजुकेशन के मामले में काफी पीछे आंका जाता है लेकिन गूगल पर कश्मीरी गर्ल को सर्च करने में दूसरे स्थान पर झारखंड का लोगो का स्थान आता है।

3. तेलंगाना

तेलंगाना की भाषा चाहे कश्मीर से कितनी भी विपरीत हो लेकिन कश्मीरी गर्ल को गूगल पर तलाशने वालों की इस लिस्ट में तीसरे नम्बर पर तेलंगाना का आता है।

4. कर्नाटक

गूगल पर कश्मीरी गर्ल को सर्च करने में चौथे नम्बर पर झारखंड के लोगों का नम्बर आता हैं।

5. महाराष्ट्र

गूगल पर कश्मीरी लड़कियों को सबसे ज्यादा सर्च करने में 5वें स्थान पर महाराष्ट्र के लोगों का नम्बर आता है।

कश्मीरी लड़कियों को गूगल पर सर्च करने में ये राज्य सबसे आगे...

अगर बात की जाए कश्मीर में जमीन खरीदने की सबसे ज्यादा इस गूगल सर्च करने वालो की लिस्ट हरियाणा पहले स्थान पर है। जबकि दूसरे स्थान पर उत्तर प्रदेश और तीसरे स्थान पर महाराष्ट्र आता है।

नोबेल पुरस्कार जीतने वाली मलाला यूसुफजई का अनुच्छेद 370 पर पहला बयान…