भारत और इसरो के लिए एक खुशखबरी सामने आई है। एक तरफ जहां चंद्रयान के ऑर्बिटर ने विक्रम लेंडर की लोकेशन का पता लगाया

चंद्रयान 2 को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। यह खबर सुनने के बाद देशवासियों के चेहरे खिल उठे हैं। जानकारी मिली है कि चंद्रयान के ऑर्बिटर ने विक्रम लेंडर की लोकेशन का पता लगा लिया है। यह खुशखबरी कोई अफवाह नहीं है बल्कि यह सुखद खबर खुद इसरो ने दी है। इसरो से मिली इस जानकारी के मुताबिक विक्रम लेंडर अभी भी पूरी तरह से ठीक है। उसे ज्यादा बड़ा नुकसान नहीं पहुंचा है।

विक्रम लैंडर का सुराग लगते ही जापान ने कर दिया यह बड़ा ऐलान, कहा हम करेंगे...

जानकारी के लिए बता दें कि कुछ दिन पहले ही भारत ने अपना बहुचर्चित मिशन चंद्रयान 2 भेजा था। लेकिन जैसे ही चंद्रयान चंद्रमा की सतह पर उतरने वाला था, उसका विक्रम लेंडर इसरो के संपर्क से बाहर निकल गया। जिसके बाद इसरो की ही नहीं बल्कि पूरे देश की जनता की उम्मीद टूट गई थी। इसरो ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया की नजरें इस मिशन पर टिकी हुई थी। यह हादसा होने के बाद इसरो चीफ सिवान की आंखें भर आई थी जिसके बाद नरेंद्र मोदी ने उन्हें गले लगा लिया।

लैंडर विक्रम फिर दिखा सकता है अपना जौहर, अभी भी पूरी तरह सुरक्षित : इसरो

विक्रम लैंडर का सुराग लगते ही जापान ने कर दिया यह बड़ा ऐलान, कहा हम करेंगे... हाल ही में भारत और इसरो के लिए एक खुशखबरी सामने आई है। एक तरफ जहां चंद्रयान के ऑर्बिटर ने विक्रम लेंडर की लोकेशन का पता लगा लिया है, वहीं दूसरी तरफ जापान ने इसरो और भारत के लिए बड़ा ऐलान कर दिया है। भारत में जापान के राजदूत ने कहा कि हम चंद्रयान 2 के लिए इसरो और उसके वैज्ञानिकों की सराहना करते हैं और हमें विश्वास है कि भारत चंद्रमा के ध्रुवीय अन्वेषण में अपना योगदान आगे भी जारी रखेगा। जापान के राजदूत ने एक बड़ा ऐलान करते हुए ये भी कहा है कि जापान एयरोस्पेस एक्सप्लोरेशन एजेंसी और इसरो साथ मिलकर चंद्रमा के ध्रुवीय अन्वेषण करने की योजना बना रहे हैं जो 2020 की शुरुआत से शुरू किया जा सकता है।

 ISRO ने लैंडर विक्रम चंद्रयान -2 को खोजने में कामयाबी हासिल की है। ऑर्बिटर ने ली लैंडर की कई तस्वीरें