नागरिकता संशोधन बिल को लेकर विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं। आगजनी और तोड़फोड़ जैसी घटनाएं सामने आ रही हैं। इस पर दुनिया के नजरे भी बनी हुई हैं।

देश के कई हिस्सों में नागरिकता संशोधन बिल को लेकर विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं। आगजनी और तोड़फोड़ जैसी घटनाएं सामने आ रही हैं। इस पर दुनिया के नजरे भी बनी हुई हैं। विरोध प्रदर्शनों का असर भारत-जापान समिट पर पड़ा है। 15 दिसंबर को भारत दौरे पर आने वाले जापान के प्रधानमंत्री शिंजों आबे का दौरा रद्द हो गया है।

Related image

इस दौरे को लेकर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने ट्विटर के माध्यम से बताया कि दोनों देशों ने आपसी सहमति से जापानी पीएम के प्रस्तावित भारत दौरे को आगे बढ़ा दिया गया है। उन्होंने बताया कि जल्द ही इस समिट के लिए दोनों देशों के बीच आपसी सहमति से नई तिथि निर्धारित की जाएगी। वैसे शिंजों आबे के दौरे को लेकर जापान की तरफ से कोई अधिकारिक बयान सामने नहीं आया है।

वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसे भारत पर धब्बा बताया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ये समिट 15 से 17 दिसंबर से गुवाहटी में होना था। इस समिट के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के बीच कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात होनी थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here