जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना की ओर से चलाए गए ऑपरेशन में तीन आतंकी मारे गए हैं।

जम्मू- कश्मीर में मंगलवार को त्राल सेक्टर में सुरक्षाबलों ने आतंकियों को ढेर कर मार गिराया हैं। बताया जा रहा है कि घाटी में जाकिर मूसा के गिरोह का खात्मा कर दिया गया है। जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना की ओर से चलाए गए ऑपरेशन में तीन आतंकी मारे गए हैं। जिनमें जाकिर मूसा गिरोह के अंतिम मुख्य अब्दुल हमीद ललहारी के साथ दो अन्य आतंकी भी शामिल हैं। जिनकी पहचान नावीद टाक और जुनैद भट के तौर पर हुई है।

 अब्दुल हमीद ललहारी

जम्मू-कश्मीर के पुलिस डीजीपी दिलबाग सिंह ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि त्राल के एनकाउंटर में तीन आतंकी मारे गए हैं। ये तीनों आतंकी त्राल के ही निवासी थे। डीजीपी ने आगे बताया कि जाकिर मूसा के बाद गजवत-उल-हिंद का मुख्य हामिद लल्हारी को बनाया गया था। इसी ने इस ग्रुप को दोबारा खड़ा किया। और लल्हारी द्वारा ही नावेद और जुनैद को भी अपने आतंकी संगठन में शामिल किया गया था। तीनों जैश के साथ काम कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आजकल जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर और हिज्बुल के साथ मिलकर घाटी में आतंक फैलाने की कोशिश कर रहा था।

बता दे कि आतंकी जम्‍मू-कश्‍मीर में शांतिपूर्ण हालात को देखकर अपना आपा खो बैठे हैं। वे लोगों को कारोबार करने से रोकने के लिए उनकी हत्‍या कर रहे हैं। सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार और गोलाबारूद बरामद किया है। ये आतंकी दक्षिण कश्मीर में ग्रामीणों और पंच-सरपंचों को डरा-धमका रहे थे। राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल के जवानों ने सेना और सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन को अंजाम दिया हैं।