भारत और चीन में आपसी विवाद काफी बढ़ गया है और इसी सीमा विवाद के चलते भारत अपनी क्षमताओं को लगातार मजबूत करने में लगा है इसी के चलते भारत ने एक बड़ा काम किया है SSB ने 22 सीमा चौकी तैयार किए हैं। इससे एसएसबी को भारत और भूटान की सीमा के पास महत्वपूर्ण स्थानों को तैनात किया जा सकेगा। अब, SSB के पास ऐसे कई अहम बॉर्डर आउटपोस्ट हो गए हैं जो समुद्र स्तर से 12 हजार फीट से अधिक ऊंचाई पर स्थित हैं।

SSB को भारत-भूटान-तिब्बत के पास तैनात किया गया है और ये सीमा चौकी SSB को मजबूती प्रदान करेंगे। बता दें कि साल 2017 में भारत के चीन की सेना के साथ चले लंबे विवाद के बाद ट्राइ-जंक्शनों को रणनीतिक रूप से काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। बता दें, SSB को 734 चौकियां बनाने की अनुमति है। इन 22 चौकियों के निर्माण के बाद SSB के पास 722 चौकियां हो जाएंगी। एसएसबी के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया, ‘ये नई चौकियां सीमा क्षेत्रों में SSB को मजबूती प्रदान करेंगी। खासकर ट्राइ-जंक्शन इलाकों में SSB को खासी मदद मिलेगी। चीन के साथ LAC पर विवाद के बीच इन सीमा चौकियों का निर्माण पहले के मुकाबले कहीं अधिक तेजी से किया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक अनुमति प्राप्त चौकियों की संख्या पूरी करने के लिए अब 12 सीमा चौकियों का निर्माण किया जाना बाकी है जिन्हें अधिक ऊंचाई वाली चोटियों पर बनाया जाएगा। इन चौकियों को उन स्थानों पर बनाया जाएगा जहां लद्दाख की तरह तापमान शून्य से भी नीचे चला जाता है।’ बता दें पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद के बीच ट्राइ-जंक्शन समेत अहम स्थानों से एसएसबी ने अपना एक भी जवान इधर से उधर नहीं किया है।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है