सुरक्षाबलों ने आतंकियों की तलाश में इलाके में घेराबंदी कर दी और सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में कड़ी सुरक्षा के बावजूद हरि सिंह हाइट स्ट्रीट के पास आतंकियों ने ग्रेनेड फेंका है। इस हमले में 11 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। यह ग्रेनेड अटैक तब हुआ है, जब घाटी में सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम सख्त हैं और हर जगह जवानों की सघन तैनाती की गई है। आपको बतादें कि इस हमले में तीन स्थानीय नागरिक भी घायल हो गए हैं। घायल नागरिकों को उपचार के लिए अस्तपाल में भर्ती कराया गया है। दरअसल, सुरक्षाबलों ने आतंकियों की तलाश में इलाके में घेराबंदी कर दी और सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है। घटनास्थल पर जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ-साथ सुरक्षाबलों की टीम मौजूद रही।

 श्रीनगर के ग्रेनेड अटैक, कई लोग हुए घायल

बता दें कि अब सुरक्षाबल ग्रेनेड अटैक के बारें में जानकारी जुटा रहे हैं कि हमला कैसे हुआ। बता दें कि जब से जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटी है तब से पत्थरबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है। तो वही 5 अगस्त से अब तक जम्मू-कश्मीर में 300 से ज्यादा बार पत्थरबाजी की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। बता दें कि सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया है और घाटी में सुरक्षाबलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

ग्रेनेड हमले में कम से कम 11 नागरिक घायल हो गए हैं।

श्रीनगर के पॉश इलाके में ग्रेनेड अटैक, कई लोग हुए घायल

इससे पहले दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों ने पांच अक्टूबर को ग्रेनेड से हमला किया। तो वही डीसी ऑफिस के बाहर हमले में एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी और एक पत्रकार समेत 14 लोग घायल हो गए। तो वहींजवानों के इलाके में पहुंचने के बाद एक बड़ा सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया। पुलिस  के मुताबिक, ग्रेनेड हमले में कम से कम 11 नागरिक घायल हो गए हैं। सभी घायलों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है और इलाके की घेराबंदी कर छापेमारी की जा रही है।’

इससे पहले कश्मीर के अनंतनाग में भी आतंकियों ने एक ग्रेनेड अटैक की घटना को अंजाम दिया था, जिसमें कई लोग घायल हुए थे। तो अब इस घटना में कुछ वाहनों को भी नुकसान हुआ, वहीं धमाके की आवाज सुनकर इलाके में अफरा-तफरी मच गई। इस घटना की सूचना मिलते ही जम्मू-कश्मीर पुलिस, सीआरपीएफ और सेना की टीमों को मौके पर भेजा गया।