Contract Farming के प्रति किसानों को किया जागरूक

प्रधानमंत्री Narendra Modi ने आज Budget 2021-22 में कृषि के लिए उठाए गए कदमों के बारे में सरकार का पक्ष रखा। इस दौरान उन्होंने यह भी बताया कि सरकार ने बजट 2021-22 में कृषि के लिए कई बड़े और जरूरी कदम उठाए हैं। उन्होंने बताया कि सरकार ने कृषि कर्ज के लक्ष्य को भी बढ़ाया है और बढ़ाकर 16.50 लाख करोड़ रुपये कर दिया गया है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने contract farming के प्रति भी किसानों को जागरूक किया।

कॉन्ट्रेक्ट फार्मिंग पर क्या बोले पीएम मोदी ?

PM Modi कि हमारे यहां कॉन्ट्रेक्ट फार्मिंग काफी समय से किसी न किसी रूप में की जा रही है। हमे ऐसी कोशिश करनी चाहिए की Contract Farming व्यापार से आगे बढ़े। अपनी मातृभूमि के प्रति हमें अपनी जिम्मेदारी को निभाना है।

इस दौरान प्रधानमंत्री Modi ने कहा कि किसानों को प्राथमिकता में सही मात्रा में ऋण, बीज और बाजार, खाद मिलें, यह उसकी प्राथमिक जरूरत है। बीते वर्षों में किसान क्रेडिट कार्ड का दायरा बढ़ाया गया है, किसान क्रेडिट कार्ड छोटे से छोटे किसानों तक, पशुपालकों से लेकर मछुआरों तक पहुच रहा है।

PM Modi के बाद गृह मंत्री Amit Shah भी लगवाएंगे corona…

बजट में कृषि आवंटन पर भी बोले पीएम मोदी

PM Modi ने बजट 2021-22 में कृषि के लिए उठाए गए सरकार के कदमों पर बोलते हुए कहा कि सरकार ने कृषि ऋण लक्ष्य को बढ़ाकर 16.50 लाख करोड़ रुपये तक कर दिया है – पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन क्षेत्रों को भी प्राथमिकता दी गई है। ग्रामीण अवसंरचना निधि 40,000 करोड़ रु. माइक्रो इरीगेशन फंड दोगुना कर दिया गया है।

इस दौरान प्रधानमंत्री Narendra Modi ने यह भी कहा कि 21वीं सदी के भारत को कृषि उत्पादन बढ़ाने के बीच फसल के बाद या खाद्य प्रसंस्करण क्रांति और मूल्य संवर्धन की जरूरत है। पीएम ने कहा कि यह देश के लिए और बेहतर होता अगर यह 2-3 दशक पहले किया गया होता।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है