भारत में वर्तमान में जिन तीन वैक्सीन को देश में कोरोना के खिलाफ जंग में लोगों को लगाने की इजाजत दी गई है इसमें स्वदेशी विकसित कोवैक्सीन भी है। देसी Corona वैक्सीन Covaxin के फेज 3 के नतीजे सामने आ गए हैं। सूत्रों ने बताया कि देशभर में हुए ट्रायल में भारत बायोटेक और आईसीएमआर की ओर से विकसित टीका 77.8 फीसदी असरदार मिला।

देश में पहले ही Covaxin को आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी मिल चुकी है। सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमिटी (SEC) ने भारत बायोटेक की ओर से उपलब्ध कराए गए डेटा की समीक्षा की है। हालांकि अभी इसे मंजूरी नहीं दी गई है। ट्रायल डेटा की समीक्षा के लिए मंगलवार को एक्सपर्ट पैनल की बैठक हुई। SEC की ओर से इस डेटा को अब ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) के पास भेजा जाएगा।

भारत बायोटेक ने पैनल के सामने डेटा को रखा है, जिसके मुताबिक यह 77.8 फीसदी प्रभावी पाया गया है। SEC में अब आंकड़ों को परखा जा रहा है। WHO ने भारत बायोटेक के एक्सप्रेशन ऑफ इंट्रेस्ट (EOI) को स्वीकार कर लिया है और 23 जून को इस पर बैठक होने जा रही है। माना जा रहा है कि इसके बाद जल्द ही WHO Covaxin को इमर्जेंसी यूज लिस्टिंग में शामिल कर सकता है।

यह भी पढ़ें:  भारत में Delta Plus के मामले में इजाफा, केरल समेत कई राज्यों में मिले इतने मरीज

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है