बाबा रामदेव ने भले ही एलोपैथी पर दिया विवादित बयान वापस ले लिया हो लेकिन उनकी मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। बाबा रामदेव के बयान के बाद इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) की ओर से कई राज्यों में रामदेव के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी जिनके खिलाफ अब बाबा रामदेव ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है और सुप्रीम कोर्ट से दर्ज एफआईआर में राहत की मांग की है

बता दें की बाबा रामदेव के खिलाफ पटना और रायपुर में केस दर्ज हुए हैं। बाबा रामदेव चाहते हैं कि उनके खिलाफ जो केस दूसरे राज्यों में दर्ज हुए हैं वे दिल्ली ट्रांसफर किए जाएं। इतना ही नहीं बाबा रामदेव ने सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई है कि उनके खिलाफ दर्ज मामलों को लेकर फिलहाल कोई कार्रवाई ना की जाए

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने आरोप लगाया है कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान बाबा रामदेव ने आधुनिक चिकित्सा पद्धति और साइंस को लेकर लोगों के मन में भ्रम फैलाने की कोशिश की है और इससे डॉक्टरों की भावनाएं आहत हुई हैं

यह भी पढ़ें: ‘Kill Bill’ के हिंदी रीमेक में नज़र आएंगी Kriti Sanon!

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है