गर्मी का मौसम आते ही Cylinder blast की ख़बरे आना शुरू हो जाती हैं। उत्तबर प्रदेश के गोंडा में अचानक धमाके के साथ एक-दूसरे से जुड़े दो मकान भरभराकर गिर गए। दोनों मकानों के मलबे के नीचे दबकर आठ लोगों की मौत हो गई जबकि सात अन्यर लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि Cylinder blast की वजह से यह हादसा हुआ है। मामला गोंडा के वज़ीरगंज थाना क्षेत्र के टिकरी के ठठेरपुरवा का है। बुधवार की देर रात मनिहारी के एक घर में ज़बरदस्त विस्फोट से पूरा घर भराभरा कर ढह गया। विस्फो ट इतना तेज था कि बगल का घर भी ढह गया।

इस हादसे में आठ लोगों की मौत हो गई और सात लोग घायल हैं। घायलों में तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। प्रत्यमक्षदर्शियों के मुताबिक मलबे के नीचे से 14 लोग निकाले गए जिनमें से आठ की मौत हो गई। मरने वालों में चार बच्चे , दो महिलाएं और दो पुरुष शामिल हैं। मुख्य मंत्री योगी आदित्यौनाथ ने घटना पर दु:ख व्यpक्तi करते हुए अधिकारियों को राहत और बचाव कार्य तेजी से चलाने और घायलों को उचित इलाज मुहैया कराने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही उन्होंबने डीएम को दुर्घटना के कारणों की जांच कराकर रिपोर्ट देने को भी कहा है।

डायल 112 पर मिली सूचना पर मौके पर पहुंची वजीरगंज पुलिस ने तीन जेसीबी के सहयोग से रेस्क्यू करते हुए सभी शवों और घायलों को घर के मलबे से बाहर निकाला। घायलों को आनन-फानन में जिला अस्पसताल पहुंचाया गया। गोंडा के एसपी संतोष कुमार मिश्र और उसके बाद आईजी डा सात अन्यफ लोगों का इलाज चल रहा है। पुलिस के मुताबिक प्रथमदृष्टया यही लग रहा कि Cylinder blast से मकान गिरा है। वैसे कुछ स्थानीय लोगों का कहना है कि नुरूल हसन (जिनके यहां विस्फोट हुआ) आतिशबाजी का काम भी करते हैं।

यह भी पढ़ें: Corona की दूसरी लहर ज़िंदगी के साथ साथ 1 करोड़ से अधिक लोगों की ले गई नौकरी

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है