दक्षिण पूर्वी अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान तौकते को लेकर कई राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। इस बीच तूफान के और भीषण होने की आशंका जताई जा रही है। बता दें कि यह चक्रवाती तूफान कल गुजरात के तट से टकराएगा।
कर्नाटक में चक्रवात तौकते के चलते पिछले 24 घंटों में 6 जिलों, 3 तटीय जिलों और 3 मलनाड जिलों में भारी से भारी वर्षा हुई है। इसी के चलते चार लोगों अपनी जान भी गवां चुके हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक, इस तूफान के 17 मई की शाम को गुजरात तट पर पहुंचने की उम्मीद है। बताया गया है कि यह गुजरात के वेरावल और पोरबंदर के बीच मांगरोल के पास तट से टकराने वाला है।और ऐसी आशंका भी जताई जा रही है किमहाराष्ट्र, केरल और गुजरात के तटों पर तीन दिनों तक इस चक्रवाती तूफान का असर देखने को मिल सकता है।
मौसम विभाग की मानें तो तूफान गुजरात के साथ-साथ केंद्रशासित प्रदेश दमन दीव, दादरा और नगर हवेली में तबाही मचा सकता है। इसके अलावा केरल, तमिलनाडु में बाढ़ का खतरा पैदा होने के साथ कर्नाटक, गोवा और महाराष्ट्र में भारी बारिश होने की संभावना है। जिसे देखते हुए तटवर्ती इलाकों के निवासियों और मछुआरों को भी सतर्क कर दिया गया है।

CBSE12वीं बोर्ड परीक्षा पर अधिकारी ने तोड़ी चुप्पी, नहीं हुआ फैसला

वहीं, गुजरात में चक्रवाती तूफान के चलते एनडीआरएफ की टीमों की तैनाती की गई हैं। इसी बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुजरात, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्रियों और दमन और दीव, दादरा नागर हवेली के अधिकारियों के साथ एक बैठक की। जिसमें चक्रवात तूफान तौकते से निपटने के लिए की गई तैयारियों पर चर्चा की गई है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है