अगर आपकी सुरक्षा करने वाला ही गद्दार हो जाए तो फिर आपकी सुरक्षा को लेकर सवाल उठना तो लाजमी है। जहां कुछ ऐसे जवान होते हैं जो अपने देश के नाम अपनी जिंदगी कुरबान कर देते हैं। वहीं कुछ देवेंद्र सिंह जैसे भी होते हैं जो देश के लोगों की जान का सौदा करने से पहले सोचते भी नहीं हैं। जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में गिरफ्तार हुए हिजबुल मुजाहिदीन और लश्कर-ए-तैयबा के खतरनाक आतंकवादियों के पुलिस के डीएसपी देवेंद्र सिंह के बारे में एक नया खुलासा हुआ था।

Jammu-Kashmir के Pulwama में सुरक्षाबलों ने 3 आतंकियों को किया ढेर

सुत्रों के मुताबिक डीएसपी देवेंद्र सिंह ने आतंकियों को पहले (चंडीगढ़) Chandigarh और फिर (दिल्ली) Delhi पहुंचाने के लिए लाखों रुपए की डील की थी। खबरों की माने तो डीएसपी का कथित तौर पर आतंकी अफजल गुरु से कनेक्शन होने की बात कही जा रही है। फिलहाल पुलिस का कहना है कि डीएसपी देवेंद्र के साथ अफजल गुरु के साथ कनेक्शन होने वाली बात पर जांच की जा रही है।

मकर संक्रांति पर जानिए किन राशियों पर असर डालेगा सूर्य

आपको बता दें कि भारतीय संसद पर 13 दिसंबर 2001 को आतंकी हमला हुआ था जिसका आरोपी अफजल गुरु को फांसी की सजा हुई थी। इस आतंकी हमले में कुल 14 लोगों की जान गई थी। देवेंद्र सिंह को पुलिस ने तब गिरफ्तार किया जब वो आतंकवादियों के साथ कहीं जा रहा। देवेंद्र सिंह दो आतंकवादियों के साथ नवीन बाबू और रफी अहमद के साथ गिरफ्तार किया गया है।

आसान भाषा में जानिए क्या होता है कमिश्नर सिस्टम?

डीएसपी देवेंद्र सिंह की तैनाती (श्रीनगर एअरपोर्ट) Sri Nagar पर हो रखी थी। (एंटी टेरर ग्रुप) Anti Terror Group और (एंटी हाईजैकिंग स्क्वॉड) Anti Hijacking squad सदस्य रहे देवेंद्र सिंह को (राष्ट्रपति मेडल) Presidential medal से भी नवाजा जा चुका था। पुलिस ने देवेंद्र सिंह के घर से तीन AK-47 राइफल ऐर पांच हैंड ग्रेनेड भी बरामद किए हैं। पुलिस का कहना है कि पुलिस अब देवेंद्र सिंह से पूछताछ करेगी और फिर उनके और भी लिंक्स के डीटेल्स के बरे पता लगाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here