घाटी में बड़ी संख्या में जवानों की तैनाती की गई है, अमरनाथ यात्रा को रद्द कर दिया गया है और पर्यटकों को भी घाटी से बाहर जाने के लिए कह दिया गया है।

जम्मू कश्मीर के हालातों पर लगातार बयान आ रहे हैं, घाटी के हालातों में लगातार हलचल बढ़ती जा रही है। जिसको देखते हुए विपक्ष लगातार केंद्र पर वार कर रहा है। पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने सरकार को चेतावनी दी है कि जम्मू कश्मीर में कुछ भी किसी भी तरह के गलत काम नहीं होने चाहिए।

क्या बिगड़ रहे हैं कश्मीर के हालात! इरफान पठान को कश्मीर छोड़ने का जारी हुआ फरमान

जम्मू कश्मीर को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार को दी चेतावनी

दरअसल घाटी में बड़ी संख्या में जवानों की तैनाती की गई है, अमरनाथ यात्रा को रद्द कर दिया गया है और पर्यटकों को भी घाटी से बाहर जाने के लिए कह दिया गया है, जिसके बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि सरकार घाटी से अनुच्छेद 35A और 370 को खत्म कर सकती है। इसी के चलते विपक्ष ने केंद्र सरकार को चेतावनी दी है कि इस तरह का कोई भी कदम सरकार ना उठाए।

कश्मीर मुद्दें पर कल होगी केंद्रीय कैबिनेट की बैठक, लिया जाएगा बड़ा फैसला!

जम्मू कश्मीर को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार को दी चेतावनी
पी चिदंबरम ने कहा कि हमे इंतजार करना चाहिए और यह देखना चाहिए कि ये लोग क्या करने जा रहे हैं। लेकिन मुझे यह पूरी तरह से विश्वास है कि ये लोग कुछ गलत करने जा रहे हैं। मैं इन्हें चेतावनी देना चाहता हूं कि इस तरह का कोई कदम ना उठाएं। पी चिदंबरम ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके केंद्र को चेतावनी दी है, इस दौरान उनके साथ वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, अंबिका सोनी और डॉक्टर करन सिंह भी मौजूद थे। चिदंबरम ने कहा कि सरकार कुछ मिसएडवेंचर करने की तैयारी कर रही है।