अब हर कारोबार के लिए Commercial License लेना हुआ ज़रूरी

0
57

अब कोई भी कारोबार शुरू करने से पहले आपको Commercial License लेना होगा। दरअसल गाजियाबाद नगर निगम ने Commercial License अनिवार्य कर दिया है। साथ ही शहर में कारोबार करने वालों के लिए लाइसेंस शुल्क तय कर दिया है। इसके बाद शहरी क्षेत्र में वही लोग व्यवसाय कर सकेंगे, जिसने लाइसेंस शुल्क जमा करा दिया है।

अब Commercial License नहीं लेने वालों पर सख्ती होगी। निगम की तरफ से पांच सितारा होटल, अस्पताल से लेकर रिक्शा तक का वार्षिक शुल्क तय कर दिया गया है। बता दें कि शहरी क्षेत्र में व्यवसाय करने वालों के लिए Commercial License अनिवार्य है। यह License निगम से जारी होता है। शासन के आदेश पर भी ज्यादतार लोग License नहीं बना रहे हैं। ऐसे लोगों पर अब सख्ती की जाएगी। इस बावत नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर ने पांचों जोन के जोनल प्रभारियों को आदेश दिया है। नगर आयुक्त ने बताया कि सभी के लिए Commercial License अनिवार्य है। जोन दफ्तर से Commercial License एक साल के लिए बनवाया जा सकता है।

नगर नगर राजस्व बढ़ाने के लिए Commercial License बनाने पर जोर दे रहा है। निगम अधिकारियों का मानना है कि License जारी होने के काफी मोटी आय मिल जाएगी। इससे विकास कार्यों को रफ्तार मिलेगी। निगम ने पिछले वित्त वर्ष में 135 करोड़ से ज्यादा की कर वसूली की थी।

मुख्य कर निर्धारण अधिकारी डॉ. संजीव सिन्हा ने बताया कि शहरी क्षेत्र में स्थित सभी स्कूल, कॉलेजों में संचालित बसों का भी License बनवाना होगा। लाइसेंस नहीं होने पर बसों को सील करने की कार्रवाई की जाएगी। आयुक्त ने बताया कि Commercial License बनवाने में परेशानी नहीं होगी। कोई दिक्कत आने पर मोहननगर जोन के कर अधीक्षक बनारसी दास, वसुंधरा जोन के कर अधीक्षक झम्मन सिंह, विजय नगर जोन के कर अधीक्षक आर.पी. सिंह, सिटी जोन के कर अधीक्षक गजेंद्र कुमार और कवि नगर जोन की कर अधीक्षक शीतला गुप्ता से संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:  आप भी चलाते हैं Car तो 30 सितंबर तक करा लें…

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है