एक तरफ Coronavirus से लोग परेशान हैं तो वहीं ठगी करने वाले इस वक़्त भी अपनी हरकतों से बाज़ नहीं आ रहे हैं। उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष कार्यबल (एसटीएफ) ने शुक्रवार को CM Yogi का फर्जी विशेष कार्याधिकारी (OSD) बनकर फर्जी जांच की धौंस दिखाकर कथित रूप से ठगी और जबरन धन उगाही करने वाले गिरोह के सरगना समेत चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है।

CM Yogi का OSD बनकर धन उगाही करने वाला सरगना सचिवालय का पूर्व सहायक समीक्षा अधिकारी है। बता दें कि पुलिस के अनुसार, चारों आरोपियों के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में FIR दर्ज किया गया है। पुलिस मुख्यालय से जारी एक बयान के अनुसार, एसटीएफ ने कन्नौज के प्रमोद कुमार दुबे, लखनऊ के अतुल शर्मा, प्रदीप कुमार श्रीवास्तव और बहराइच के राधेश्याम कश्यप को शुक्रवार को शाम करीब चार बजे लखनऊ के एनेक्सी भवन के पास से गिरफ्तार कर लिया।

एसटीएफ के अनुसार, यह सूचना काफी दिनों से मिल रही थी कि एक गिरोह की ओर से CM Yogi का OSD बनकर अलग-अलग नामों से जांच की धमकी देकर धन उगाही की जा रही थी। इस गिरोह के खिलाफ कई मामले भी दर्ज हुए थे। सटीक सूचना के आधार पर एसटीएफ ने चारों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के कब्जे से 14 मोबाइल फोन, विभिन्न कंपनियों के 22 सिम कार्ड, सहायक समीक्षा अधिकारी का परिचय पत्र, उत्तर प्रदेश के विभिन्न विभागों के अधिकारियों की सूची समेत कई चीजें बरामद की हैं।

यह भी पढ़ें: Jharkhand सरकार Black Fungus को महामारी घोषित करने की कर रही है तैयारी, जानें वजह

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है