Corona काल में Delhi सरकार ने एक बड़ी राहत देते हुए सभी अकुशल, अर्ध-कुशल और कुशल श्रमिकों के न्यूनतम वेतन में वृद्धि की है। Delhi सरकार की तरफ से शुक्रवार को जारी किए गए एक ऑर्डर में सभी अकुशल, अर्ध-कुशल, कुशल और दूसरे श्रमिकों के लिए महंगाई भत्ते में वृद्धि की गई है। यह वृद्धि 1 अप्रैल, 2021 से प्रभावी होगी उपमुख्यमंत्री Manish Sisodia ने कहा, “ये कदम गरीब और मजदूर वर्ग के हित में उठाए गए हैं, जो मौजूदा महामारी के कारण काफी परेशान है।

इस ऑर्डर से लिपिक और सुपरवाइजर वर्ग की नौकरी वाले कर्मचारियों को भी फायदा होगा।” उन्होंने कहा कि असंगठित क्षेत्र के जो लोग न्यूनतम मजदूरी पर कार्यरत हैं उन्हें महंगाई भत्ते से वंचित नहीं किया जाना चाहिए। इसलिए महंगाई भत्ते को ध्यान में रखते हुए न्यूनतम मजदूरी की संशोधित दरों की घोषणा की गई है।

Manish Sisodia ने कहा कि हालांकि हमें सरकार के कई खर्चों में कटौती करनी पड़ी है, लेकिन मजदूर वर्ग के हितों को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि Corona महामारी के कारण समाज का हर वर्ग प्रभावित हुआ है। Oil और दाल जैसी दैनिक उपभोग की वस्तुओं की कीमतें बढ़ी हैं। उन्होंने कहा कि Delhi में दूसरे राज्यों की तुलना में मजदूरों को सबसे ज्यादा न्यूनतम वेतन मिल रहा है। न्यूनतम वेतन में इस बढ़ोतरी से करीब 55 लाख कॉन्ट्रैक्चुअल वर्कर्स को फायदा होगा।

Delhi सरकार ने कहा कि महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी के साथ अकुशल मजदूरों का मासिक वेतन 15,492 रुपये से बढ़ाकर 15,908 रुपये, अर्धकुशल श्रमिकों का वेतन 17,069 रुपये से बढ़ाकर 17,537 रुपये और कुशल मजदूरों के लिए यह अब 18,797 रुपये से बढ़ाकर 19,291 रुपये किया गया है।

इसके अलावा सुपरवाइजर और लिपिक वर्ग के कर्मचारियों के लिए भी न्यूनतम वेतन में वृद्धि की गई है। गैर-मैट्रिक कर्मचारियों के लिए monthly salary 17,069 रुपये से बढ़ाकर 17,537 रुपये और मैट्रिक के कर्मचारियों के लिए 18,797 रुपये से बढ़ाकर 19,291 रुपये कर दिया गया है। ग्रेजुएट और उच्च शैक्षणिक योग्यता वाले लोगों के लिए monthly salary 20,430 रुपये से बढ़ाकर 20,976 रुपये कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: बुझते Chirag को बचाने के लिए पूर्व सांसद ने PM मोदी से लगाई गुहार, जानें पूरी ख़बर

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है