कोरोना की दूसरी लहर से CBSE बोर्ड की 12वीं क्लास की परीक्षाओं ( CBSE 12th Exam) को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है। सूत्रों की मानें तो शिक्षामंत्री रमेश पोखरियाल 1 जून को सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) की 12वीं कक्षा की परीक्षाओं  को लेकर तारीखों (CBSE 12th Exam Date) की घोषणा कर सकते हैं। संभावना जताई जा रही है कि परीक्षा की अवधि डेढ़ घंटे से घटाकर आधा घंटा की जा सकती है जिसमें छात्रों से केवल ऑब्जेक्टिव प्रश्न ही पूछे जाएंगे।

दरअसल रविवार को सभी राज्यों के शिक्षामंत्रियों की बैठक हुई थी जिसके बाद सभी राज्यों से CBSE बोर्ड की 12वीं क्लास की परीक्षा ( CBSE 12th Exam) को लेकर 25 मई तक केंद्र के प्रस्ताव पर लिखित प्रतिक्रिया देने को कहा गया था। बता दें कि बैठक के दिन केवल 4 राज्यों को छोड़कर सभी ने परीक्षाएं आयोजित करने के प्रस्ताव का समर्थन किया था। अधिकांश राज्यों ने 90 मिनट के एग्जाम पर सहमति जताई थी

बता दें कि CBSE ने 12वीं क्लास के एग्जाम (CBSE 12th Exam) कराने के लिए शिक्षा मंत्रालय को दो प्रस्ताव भेजे थे। पहले प्रस्ताव के तहत छात्रों से केवल 19 खास विषयों के पेपर लिए जाने हैं जिनका फॉर्मेट और एग्जाम सेंटर पहले जैसा ही रहेगा। दूसरे प्रस्ताव में एग्जाम का समय 3 घंटे से घटाकर डेढ़ घंटे किया गया है और छात्रों को अपने ही स्कूल में परीक्षा देने की अनुमति दी जानी है। अधिकांश राज्य परीक्षाएं करवाने के पक्ष में हैं और छोटे फॉर्मेट में परीक्षाएं करवाना चाहते हैं। देखना दिलचस्प होगा कि आखिर सीबीएसई की 12वीं क्लास की परीक्षाओं पर बना सस्पेंस आखिर कब खत्म होता है।

यह भी पढ़ें: Corona से बचना है तो ज़रूर लें Plant Based Diet

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है