कक्षा 12 Board Exam कब होंगे इस सवाल का जवाब अभी तक नहीं दिया जा सका है। पिछले हफ्ते PM Modi ने मंत्रियों के समूह (जीओएम) का नेतृत्व करने के लिए रक्षा मंत्री Rajnath Singh को चुनाव किया था। 12वीं के Board Exam आयोजित करने के प्रस्तावों पर की गई चर्चा में सूचना व प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी और शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ भी शामिल थे।

शिक्षा मंत्री का कहना है कि यह एक ऐसा मुद्दा है जिसमें खुद प्रधानमंत्री शामिल हैं। देश के बहुत सारे विद्यार्थियों पर इस फैसले का प्रभाव पड़ेगा इसलिए प्रधानमंत्री ने Rajnath Singh जी को भी इस बैठक में शामिल होने के लिए कहा है। इससे स्पष्ट हो जाता है कि यह मामला हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण है। ख़बरों के अनुसार सरकार के सबसे वरिष्ठ मंत्री और क्रॉस-पार्टी स्वीकृति होने की वजह से राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) के अधिकारी, सभी राज्यों के शिक्षा मंत्री, शिक्षा सचिव और राज्य परीक्षा बोर्ड के अध्यक्ष के साथ बैठक आयोजित की गई थी।

1 जून तक परीक्षाओं के संबंध में फैसला आने की उम्मीद है। वहीं एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक पीएम मोदी ने परामर्श के बाद इस बैठक की अध्यक्षता के लिए Rajnath Singh को चुना क्योंकि PM न केवल अपने सबसे वरिष्ठ मंत्री को बल्कि इस क्षेत्र में अनुभव रखने वाले किसी व्यक्ति को जिम्मेदारी देना चाहते थे। दूसरे वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि सरकार के लिए सबसे बड़ी चिंता यह थी कि कैसे इस बैठक में सभी राज्यों को शामिल किया जाए Rajnath Singh की सभी पार्टियों में अच्छी स्वीकार्यता है और इसलिए राजनाथ सिंह को चुना गया। वरिष्ठता में, वह सर्वोच्च मंत्री हैं।

यह भी पढ़ें: Corona Vaccine वायरस के बदलते रूप में भी करेगी असर इसकी कोई गारंटी नहीं :WHO

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है