CAA कानून UP (उत्तर प्रदेश) के उन शहरों,राज्यों में भी लागू किया जाएगा जो CAA से सबसे ज्यादा प्रभावित रहे।

नागरिकता संशोधन विधेयक (CAA) को संसद से मंजूरी के बाद पूरे देश में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गये थे। इसको देखते हुए केंद्र सरकार ने शुक्रवार को एक गजट अधिसूचना जारी कर दी। इसके साथ ही CAA पूरे देश में लागू हो गया। अगर इस अधिसूचना में UP (उत्तर प्रदेश) की बात करे तो CAA कानून उत्तर प्रदेश के उन शहरों,राज्यों में भी लागू किया जाएगा जो CAA से सबसे ज्यादा प्रभावित रहे। इस पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री Yogi Adityanath (योगी आदित्यनाथ) की सरकार ने शनिवार को बड़ा फैसला लिया जिसमे योगी सरकार के मंत्री और सरकार के प्रवक्ता ने सबसे पहले अपने प्रदेश में CAA (नागरिकता संशोधन कानून) को लागू करने की बात कही है।

केंद्र ने CAA ( नागरिकता ) संशोधन कानून को लेकर अधिसूचना जारी की

UP में सबसे पहले लागू होंगा CAA कानून

साथ हीं उनका कहना है कि केंद्र के द्वारा CAA की अधिसूचना जारी करने के बाद जब इसकी पूरी जानकारी मिल जाएगी उसके तुरंत बाद हम अपने प्रदेश में इस कानून को लागू कर देंगे। तो वहीं दूसरी ओर योगी सरकार ने CAA कानून के अनुसार बांग्लादेश,पाकिस्तान और अफगानिस्तान के शरणार्थी जो कि भारत में रह रहे है। 2014 से पहले के जो शरणार्थी देश में रह रहे हैं। उनकी पहचान कर एक सुची बनाने के लिए सरकार ने आदेश दिया है। तो वहीं अभी तक सरकार ने इसको लेकर कोई लिखित सूचना जारी नहीं की है। लेकिन जिलाधिकारियों ने सरकार के आदेश के अनुसार लोगों की पहचान का काम शुरू कर दिया है। जिलाधिकारियों ने भारत में बसे शरणार्थियों की गणना करने का काम शुरू कर दिया हैं।

CAA की आग में जल रहा पूरा देश, दिल्ली के छात्रों ने नये कानून…