बॉम्बे HC का आया बड़ा फैसला, वसूली कांड पर देशमुख के खिलाफ होगी CBI जांच

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर Param Bir Singh के आरोपों पर Bombay High Court ने महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ बड़ा फैसला सुनाया है। हाईकोर्ट ने Anil Deshmukh के खिलाफ CBI जांच का आदेश जारी किया है।

हाईकोर्ट ने 15 दिन के भीतर जांच रिपोर्ट सौंपने को भी कहा है। Param Bir Singh ने गृहमंत्री देशमुख के खिलाफ HC में सौ करोड़ रुपए वसूली की याचिका लगाई थी। इसी याचिका पर फैसला सुनाते हुए Bombay High Court ने कहा कि Param Bir Singh  के आरोप गंभीर हैं। इस मामले में FIR दर्ज हो चुकी है और पुलिस जांच की जरूरत है।

CBSE Board Exams 2021: सभी विषयों के लिए होंगी परीक्षाएं

उच्च न्यायालय(high Court) ने कहा कि Anil Deshmukh पर जो आरोप लगे हैं उसकी जांच के लिए पुलिस पर निर्भर नहीं रह सकते हैं। इस मामले की निष्पक्ष जांच के लिए CBI की आवश्यकता है।  HC के फैसले पर राजनीतिक प्रतिक्रियाएं आने लगी हैं। Maharashtra के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि, “हफ्ता वसूली का सच सीबीआई जांच के बाद सामने आएगा,  इस दौरान Anil Deshmukh को गृहमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।“

Antilia केस में पुलिस अधिकारी सचिन वाजे की गिरफ्तारी के बाद  Param Bir Singh  का ट्रांसफर कर दिया गया था। इस मामले में पूर्व कमिश्नर ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र भी लिखा था, इसमें दावा किया था कि Anil Deshmukh ने सचिन वाजे को 100 करोड़ रुपए की वसूली का टारगेट दिया था और साथ ही उन्होंने देशमुख पर कई अन्य आरोप लगाए थे।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है