UP में ब्राह्मणों को मनाने के लिए बीजेपी कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। BJP में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद UP सरकार का हिस्सा हो सकते हैं। दिल्ली में CM Yogi की पीएम मोदी, जेपी नड्डा और अमित शाह से मुलाकातों के बीच यह चर्चा तेज हुई है। UP में जुलाई में विधान परिषद के 6 सदस्यों की सीटें खाली हो रही हैं। सूत्रों का कहना है कि उन्हें सदन में भेजा जा सकता है और योगी कैबिनेट का हिस्सा हो सकते हैं। यह कयास इसलिए भी तेज हैं क्योंकि उनके बीजेपी में शामिल होने के बाद अमित शाह, राजनाथ सिंह और Yogi Adityanath जैसे बड़े नेताओं ने ट्वीट कर कहा था कि इससे UP में पार्टी को फायदा होगा। जितिन प्रसाद के अलावा पूर्व आईएएस और हाल ही में एमएलसी बने एके शर्मा को भी Yogi सरकार में एंट्री मिल सकती है।

इसके अलावा उनके पार्टी में शामिल होने के दौरान भी रेल मंत्री पीयूष गोयल ने उत्तर प्रदेश की राजनीति में जितिन प्रसाद के योगदान को गिनाया था। राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि Yogi Adityanath सरकार पर ब्राह्मणों की उपेक्षा के आरोप लगते रहे हैं। ऐसे में जितिन प्रसाद जैसे ब्राह्मण नेता के जरिए पार्टी इस अगड़ी बिरादरी को साधने का प्रयास कर सकती है। जितिन प्रसाद की Yogi सरकार में एंट्री को लेकर कयास एक तस्वीर के चलते भी तेज हुए हैं, जो खुद उन्होंने ट्वीट किया है।

गुरुवार को दिल्ली में मंथन के लिए पहुंचे CM Yogi Adityanath से जितिन प्रसाद ने मुलाकात की थी। इसकी तस्वीर भी उन्होंने ट्विटर पर साझा की है। दिल्ली में सीएम योगी की अमित शाह, पीएम मोदी और जेपी नड्डा से बैठकों के बीच जितिन प्रसाद से यह मुलाकात कयासों को और तेज करने वाली है। CM Yogi से मुलाकात के बाद जितिन प्रसाद ने ट्वीट किया, ‘आज दिल्ली प्रवास के दौरान मेरे गृह प्रदेश के मुख्यमंत्री मा. Yogi Adityanath जी से भाजपा परिवार में शामिल होने के बाद प्रथम शिष्टाचार मुलाकात हुई।’

यह भी पढ़ें: Corona को मात दे चुके लोगों को नहीं है Vaccine लगवाने की ज़रुरत, जानें वजह

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है