महबूबा मुफ्ती के विवादित बयान के बाद बीजेपी कार्यकर्ता पहुंचे लाल चौक

0
199

श्रीनगर: अनुच्छेद 370 को खत्म होने के बाद नजरबंद रहे कश्मीरी नेता केंद्र सरकार के इस फैंसले के खिलाफ सामने आ रहे हैं। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ति ने 370 के खात्मे के विरोध में तिरंगे का भी अपमान कर दिया। महबूबा ने कहा था कि जब तक कश्मीर में दोबारा अनुच्छेद 370 बहाल नहीं हो जाता और उन्हें जम्मू-कश्मीर का झंडा वापस नहीं मिल जाता वो तिरंगा नहीं थामेंगी।

महबूबा के इस बयान पर काफी बवाल मच रहा है। सोमवार को महबूवा के इस बयान के विरोध में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने श्रीनगर से कुपवाड़ा तक तिरंगा यात्रा निकाल रहे है। वहीं, कुपवाड़ा में बीजेपी कार्यकर्ता श्रीनगर के मशहूर लाल चौक पहुंचे और तिरंगा फहराने की कोशिश की, जिसके बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पकड़ लिया और 4 बीजेपी कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है।

आपको बता दें कि इससे पहले बीजेपी के छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने रविवार को राष्ट्रीय ध्वज पर विवादित टिप्पणी को लेकर महबूबा मुफ्ती के खिलाफ जम्मू में पीडीपी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया था। ये प्रदर्शन का दूसरा दिन था, जब जम्मू में पीडीपी के दफ्तर पर कुछ युवाओं ने तिरंगा फहराया था। इस दौरान महबूबा मुफ्ती के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी हुई थी।