महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला के बयान पर BJP ने सोनिया – राहुल से मांगा जवाब

0
228
CONGRESS

नई दिल्ली: बीजेपी ने जम्मू कश्मीर के पंचायत चुनाव में गुपकार अलायंस के साथ हाथ मिलाने पर कांग्रेस पर निशाना साधा है। भारतीय जनता पार्टी ने जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस की ओर से महबूबा मुफ्ती, फारूख अब्दुल्ला के साथ मिलकर जिला विकास परिषद(डीडीसी) के चुनाव लड़ने की तैयारी पर निशाना साधा है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस से फारूख अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के देशविरोधी बयानों पर जवाब देने को कहा है।

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने अपने आवास पर प्रेस कांफ्रेंस करते हुए कहा कि, “कांग्रेस पार्टी को देश को जवाब देना पड़ेगा कि क्या वह फारूख अब्दुल्ला के उस स्टेटमेंट का समर्थन करती है, जिसमें उन्होंने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 लागू करने के लिए चाइना से समर्थन लेने की बात कही है। कांग्रेस को यह भी बताना चाहिए कि क्या वह महबूबा मुफ्ती के इस बयान का समर्थन करती है कि जब तक जम्मू-कश्मीर का झंडा फहराने का अधिकार नहीं मिलेगा हम तिरंगा नहीं फहराएंगे।”

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस से ये सवाल इसलिए पूछना जरूरी है, क्योंकि वह डिस्ट्रिक्ट डेवलेपमेंट कॉउन्सिल के इलेक्शन के लिए कश्मीर में गुपकार डिक्लेरेशन ऑफ पीपुल्स अलायंस में शामिल हो रही है। इस अलायंस में 10 पार्टियां हैं, जिसमे प्रमुख रूप से नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी हैं और अब कांग्रेस भी उसमें आ रही है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि, “इनका एक निश्चित एजेंडा है कि अनुच्छेद 370 को हटाया जाना रद्द होना चाहिए और उसे फिर से लागू किया जाना चाहिए। फारूख अब्दुल्ला जैसे कुछ लोग तो इस सीमा तक चले गए कि उन्होंने कहा है की अनुच्छेद 370 को दोबारा लागू करवाने के लिए चीन की भी सहायता लेनी पड़े तो हम लेंगे।”

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि, “उन्हें महबूबा मुफ्ती के इस बयान से पीड़ा हुई, जिसमें उन्होंने संविधान के साथ मजाक करने की बात कही है। केंद्र सरकार ने जो भी फैसले किए, उसमें संसदीय प्रक्रियाओं का पालन हुआ। कांग्रेस की देशविरोधी सोच को पूरे देश में उजागर किया जाएगा।”