UP Panchayat Chunav से पहले कई ज़िलों में लगी इन चीज़ों पर रोक, जाने वजह

UP Panchayat Chunav में कम वक़्त बचा है ऐसे में कुछ ऐसी भी जगह हैं जहां सभा और रैली पर रोक लगा दी गई है। UP Panchayat Chunav के लिए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर ग्रामीण इलाकों में छह मई तक धारा-144 लागू कर दी है। वाराणसी के डीएम कौशलराज शर्मा ने बताया कि बिना अनुमति के सभा, रैली व जुलूस पर रोक लगा दी गई है।

DM ने रात 10 से सुबह 6 बजे तक Loudspeaker व Sound box के इस्तेमाल पर भी रोक लगा दी है। चुनाव आचार संहिता(code of conduct) के अनुसार कोई प्रत्याशी मतदान के 48 घंटे पहले सभा या जुलूस आयोजित नहीं करेगा। Television पर भी प्रचार नहीं होगा। मनोरंजन का आयोजन भी नहीं करेंगे। डीएम ने आदेश दिया है कि चुनाव प्रचार में धार्मिक स्थल का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए। हर पद पर चुनाव लड़ने के लिए व्यय सीमा निर्धारित है। इससे अधिक खर्च न हो। सरकारी, सार्वजनिक स्थल के भवन या परिसर में Advertising, Wall Writing आदि नहीं होगी। बिना प्रत्याशियों की अनुमति के बिना कोई व्यक्ति उनके पक्ष में प्रचार सामग्री प्रकाशित नहीं कराएगा।

Coronasomnia: कहीं आप भी तो नहीं जूझ रहे कोरोनासोमनिया से?

Voting के दिन मतदाता स्वयं अथवा परिवार के सदस्यों के लिए अपने निजी वाहन मतदान केंद्र(Polling Booth) की 100 मीटर की परिधि तक ले जा सकेंगे। मतदाताओं को पहचान पर्ची सादे कागज पर दी जाएगी। उन पर कोई प्रतीक या किसी उम्मीदवार का नाम नहीं होगा। ऐसे व्यक्ति जो जिले के निवासी नहीं हैं, मतदान के 48 घण्टे पूर्व जिला छोड़ देंगे।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है