बैंक की ओर से यह फैसला ऐसे समय में लिया गया है, जब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की मौद्रिक समीक्षा बैठक चल रही है।

अपने घर को लेकर हर इंसान के बहुत से सपने होते है। लोग यही सोचते हैं कि उनके पास एक सुंदर सा अपना घर हो! पर महंगाई के चलते सभी सपने अधूरे रह जाते हैं। इसी को देखते हुए बैंक ऑफ बड़ौदा ने एक बड़ा फैसला लिया है। जो लोगों के घर के सपनों को पूरा करेगा।

दरअसल, बैंक ऑफ बड़ौदा की ओर से मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट में 0.15 फीसदी की कटौती की गई है। बैंक के इस फैसले के बाद होम और ऑटो लोन सस्‍ते हो जाएंगे।

बैंक ऑफ बड़ौदा का लोगों को तोहफा, इसके बाद सस्ते हो जाएंगे ये लोन..

बैंक की ओर से यह फैसला ऐसे समय में लिया गया है, जब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की मौद्रिक समीक्षा बैठक चल रही है। बता दे बीते 5 अगस्‍त से शुरू हुई इस बैठक में आरबीआई एक बार फिर रेपो रेट में कटौती कर सकता है। अगर ऐसा होता है, तो यह लगातार तीसरी बार होगा जब रेपो रेट में कटौती देखने को मिलेगी। रेपो रेट से ही ब्याज दरों मे बदलाव आते हैं।

एक नया सिम कार्ड हुआ लांच, एक साल तक सब कुछ फ्री, ग्राहक पूरी जानकारी के लिए जरूर पढ़ें

चलिए जानते हैं सस्‍ते हुए लोन के बारे में

बैंक ऑफ बड़ौदा का लोगों को तोहफा, इसके बाद सस्ते हो जाएंगे ये लोन...

बैंक ऑफ बड़ौदा के इस फैसले के बाद अब 1 साल की अवधि वाले कर्ज के लिए MCLR की दर 8.45 फीसदी हो जाएगी। इससे पहले MCLR की दर 8.60 फीसदी थी। इसी तरह बैंक के एक दिन की अवधि वाले लोन पर ब्याज दर घटकर 8.05 फीसदी हो जाएगी। वहीं एक माह के लोन पर MCLR की दर 8.15 फीसदी हो गई है। बैंक के तीन माह और छह माह की अवधि वाले लोन पर ब्याज दर 0.15 फीसदी घटकर क्रमश: 8.25 फीसदी और 8.40 फीसदी रह गई है।

फेसबुक लाएगा लिब्रा करंसी, जानें वर्चुअल करंसी की दुनिया को

बता दें कि हाल ही में एक अन्‍य सरकारी बैंक जैसे की यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने भी अलग-अलग अवधि के कर्ज पर MCLR में 0.20 फीसदी तक की कटौती की थी। बैंक ने एक साल की MCLR को 8.55 से घटाकर 8.50 फीसदी किया, तो वहीं एक माह की MCLR को भी 8.30 से घटाकर 8.10 फीसदी किया गया है। इसके अलावा अगर तीन महीने और छह महीने की बात करें तो MCLR में 0.10 फीसदी की कटौती की गई है।