दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ( Arvind Kejriwal)  ने वैक्सीनेशन को लेकर चिंता जाहिर की है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के पास अब कोई वैक्सीन नहीं है और चीन दिनों से 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों के लिए बनाए गए टीकाकरण केंद्र बंद पड़े हैं। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह हालात केवल दिल्ली में ही नहीं बल्कि पूरे भारत में हैं। उन्होंने कहा कि जब देश में नए वैक्सीनेशन सेंटर खोले जाने चाहिए थे उस वक्त हमें मौजूदा केंद्रों को भी बंद करना पड़ रहा है और ये बिल्कुल भी अच्ठा नहीं है।

महंगाई की मार, Oil का दाम हुआ बजट के बाहर

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal)  ने कहा कि युवाओं के लिए वैक्सीन नहीं है और बुजुर्गों की कोवैक्सीन भी खत्म हो चुकी है। वैक्सीन के लिए दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार को पत्र भी लिखा है लेकिन अभी तक वैक्सीन नहीं मिल पाई है। अरविंद केजरीवाल की मानें तो मौजूदा वक्त में देश में वैक्सीन की किल्लत है और अगर देश के लोगों को मार्च तक वैक्सीन लगा दी जाती तो शायद दूसरी लहर के प्रकोप को काफी हद तक कम किया जा सकता था

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि उनकी जानकारी में ऐसा कोई भी राज्य नहीं है जो वैक्सीन की एक भी खुराक खरीद पाया हो क्योंकि वैक्सीन कंपनियां राज्य सरकारों से बात ही नहीं कर रही। अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर राज्य और केंद्र के एकजुट होने पर जोर दिया उन्होंने कहा कि इस वक्त टीम इंडिया की तरह काम करने की जरुरत है और वैक्सीन मुहैया कराना राज्यों की नहीं बल्कि केंद्र की जिम्मेदारी है अगर इसमें देरी होती है तो ना जाने कितनी जानें चली जाएंगी

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है