कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के बीच शुक्रवार को देशभर में ईद का त्यौहार (festival) मनाया जा रहा है. गंभीर हालात को देखते हुए कई मुस्लिम संगठनों, मस्जिद समितियों और राज्य सरकारों ने गाइडलाइंस जारी की हैं. इस दौरान मुस्लिम संगठनों (Muslim organizations) की तरफ से धर्मावलंबियों को घर में ही नमाज अदा करने की सलाह दी गई है. साथ ही मास्क (Mask) और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) जैसे कोविड-19 नियमों का पालन करने के लिए कहा गया है.

दारूल उलूम देवबंद ने एक जगह पर इकट्ठे होने के बजाय अलग-अलग स्थानों पर नमाज पढ़ने की सलाह दी है. इसके अलावा कहा गया है कि मस्जिद में इमाम के साथ 3-4 लोग नमाज पढ़ सकते हैं. ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड (All India Personal Law Board) ने दुकानों और नमाज के दौरान भीड़ नहीं लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करने के लिए कहा है. वहीं, दिल्ली के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने भी समुदाय से घर पर ही नमाज अदा करने की अपील की है.

महाराष्ट्र सरकार (Government of Maharashtra) की तरफ से जारी की गई गाइडलाइंस में जुलूस और धार्मिक कार्यक्रम के आयोजन की अनुमति नहीं दी गई है. साथ ही दुकानें खुलने का समय भी सीमित कर दिया गया है. इस दौरान बाजार में भीड़ लगाने की इजाजत नहीं होगी. साथ ही इस दौरान सड़कों के किनारों पर रेहड़ी नहीं लगाने दी जाएगी. उत्तर प्रदेश सरकार (Government of Uttar Pradesh) की गाइडलाइंस के मुताबिक, मस्जिदों में नमाज नहीं होगी. इसके अलावा ईदगाह और मस्जिदों में इमाम समेत 5 लोगों को ही अनुमति दी गई है. इस दौरान सार्वजनिक (Public) जगहों पर कार्यक्रम की इजाजत नहीं है.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल में सुबह 6:15 बजे ईद की नमाज अदा की जाएगी. इस दौरान समुदाय के लोगों को मास्क लगाकर नमाज पढ़ने की सलाह दी गई है. वही बिहार में सरकार और प्रशासन में घर पर रहकर ही नमाज पढ़ने की अपील की है. इसी तरह राजस्थान (Rajasthan) में भी जिलों के कलेक्टर लोगों से सावधानी बरतने की अपील कर रहे हैं. मुस्लिम समुदाय (Muslim community) से घर पर ही रहकर नमाज पढ़ने की अपील की है. इन राज्यों में समुदाय के वरिष्ठों ने कोरोना गाइडलाइंस (Corona Guidelines) पालन करने की सलाह दी है.

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है