Bhojpur के बड़हरा प्रखंड के Sinha ganga river ghat पर शवों के तैरने की सूचना जब प्रशासन को मिली तो होश उड़ गए। आनन-फानन में प्रशासन और पुलिस के कई अधिकारियों की टीम Sinha ghat पर मेडिकल टीम के साथ पहुंची। वहां मिले तीन लाशों को disposal किया गया।
इसी कड़ी में Uttar Pradesh के Ghazipur से लेकर बिहार के बक्सर (Buxar) के बाद Bhojpur जिले में भी ganga river में लाश दिखे तो इलाके में तहलका मच गया। वही जब जिला प्रशासन को तीन शव मिले। फिर उनका नियम के मुताबिक disposal किया गया

Haryana Government ने ब्लैक फंगस अधिसूचित रोग किया प्रकाशित, CMO सर्तक

Sinha Ghat of Barahra पर गंगा नदी से तलाशी के बाद तीन और लाशों को निकाला गया, उन शवों में एक महिला और दो पुरुष के थे। बाहर निकालने के बाद medical team ने परीक्षण किया। और लाशों का Postmortem नहीं होने की हालत में उसका Safe and secure रख लिया गया। इसके बाद Jcb से गड्ढा खोदकर सभी लाशों को दफना दिया । अब इस जगह पर लगातार patrolling की जा रही है। Health Department Team भी स्थल पर मौजूद है ताकि सावधानियां बरतते हुए नदी से मिलने वाले लाशों का disposal कराया जा सके।
दरअसल एक Video सामने आया था जिसके बाद Administration की टीम हरकत में आई। Barahra police station area के Ganges River at Sinha Ghat के किनारे लगे शवों को बांस के सहारे बीच धार में बहाने का Video था।

River Ganges में शवों का वीडियो देख DM Roshan Kushwaha ने दल-बल के साथ अफसरों को रवाना किया। SDO Vaibhav Srivastava के नेतृत्व में एसडीपीओ पंकज रावत, BDO Jayawardhan Gupta, समेत कई अफसर मौके पर मौजूद थे। लाशों को जलाए जाने का कोई निशान नहीं मिला। इससे जाहिर है कि इन्हें बिना जलाए ही Flowed किया गया था। कोबिड-19 से मौत के बाद लाशों को गंगा में बहाए जाने की चौतरफा चर्चा (All round discussion) है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है