जिस तरह से Coronavirus देश में अपनी पकड़ मज़बूत कर रहा है उससे हर कोई डर रहा है लेकिन चुनावी रैलियों में Corona को लेकर न ही कोई डर और न ही कोई फ़िक्र नज़र आ रही है। आम आदमी पार्टी(AAP) ने Corona के कहर के बीच चुनावी रैलियों को लेकर भाजपा पर निशाना साधा है। AAP के वरिष्ठ नेता और विधायक राघव चड्ढा ने कहा कि भाजपा बंगाल चुनाव जीतने के लिए ‘ना दूरी ना दवाई, बस वोट के लिए ढिलाई ही ढिलाई’ नारे की तर्ज पर प्रचार कर रही है।

Raghav Chadha ने कहा कि Corona के कहर के बीच भी भाजपा नेता पश्चिम बंगाल और असम में बड़ी सार्वजनिक सभाओं को संबोधित कर रहे हैं और रैलियों का आयोजन कर रहे हैं। इतना ही नहीं राघव चड्ढा ने कहा कि इसको तुरंत बंद किया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री का नारा है कि देश नहीं झुकने देंगे, जबकि हमारा नारा होना चाहिए देशवासियों को नहीं मरने देंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा जवाब दे कि अगर 2-4 चुनाव जीत भी लिए तो उससे क्या फर्क पड़ जाएगा? पार्टियां आएंगी जाएंगी लेकिन महामारी से लोग मर जाएंगे तो वापस नहीं आएंगे।

पलटवार करते हुए BJP ने कहा है कि आम आदमी पार्टी के दिल्ली को कोरोना से बचाने पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।Raghav Chadha ने कहा कि देश में कोरोना का दैनिक आंकड़ा 2 लाख पार कर चुका है लेकिन बीजेपी का सीधा उद्देश्य बंगाल चुनाव जीतना है। उसे लोगों की जिंदगियों से कोई लेना देना नहीं है। भाजपा के लिए क्या महत्वपूर्ण है चुनाव प्रबंधन और कोरोना प्रबंधन? भारत के लोग इस बात से चिंतित हैं कि Central Government किस तरह से कोरोना का प्रबंधन कर रही है। उसी समय BJP Bengal elections में वोट कैसे हासिल किए जाएं, इसको लेकर चितिंत है। पिछले 10 दिनों में जिस गति से कोरोना संक्रमण-मौत का आंकड़ा बढ़ा है, उससे ज्यादा रफ्तार से बंगाल में भाजपा की रैलियों की रफ्तार बढ़ती गई है।

यह भी पढ़ें: जेल से मिली Lalu Prasad को रिहाई, बिना कोर्ट की अनुमति…

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है