भारत में ब्लैक फंगस के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। Covid-19 की दूसरी लहर के बाद Black fungus के मामलों में इजाफा देखी जा रही है।
भारत में अबतक ब्लैक फंगस बीमारी के करीब 9,000 मामले आ चुके हैं। तो वही कई ऐसे राज्य है जो ब्लैक फंगस को महामारी भी घोषित कर दिया है।
फंगस खास तौर पर उन लोगों में ज्यादा फैल रहा है, जिनकी इम्यूनिटी कमजोर और जिनको उम्र संबंधी काफी परेशानी है या फिर जो आर्थराइटिस जैसी बीमारियों की वजह से दवा खाते हैं।
अगर ऐसे लोगों को स्टेरॉयड दी जाए तो उनकी इम्यूनिटी और भी पहले कि अपेक्षा कम हो जाएगी, जिससे ब्लैक फंगस को प्रभावी होने का मौका मिलेगा। ऐसे में डॉक्टरों की उचित सलाह से ही स्टेरॉयड का इस्तेमाल करें।

कलेक्टर ने युवक को मारा थप्पड़, सीएम ने तत्काल प्रभाव से हटाया

इसी कड़ी में केंद्रीय मंत्री सबनंदा गौड़ा ने एक वीडियो के जरिए कहा है कि फंगस के बढ़ते केसों को देखते हुए भारत सरकार ने कई राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को भी एम्फोटेरिसिन-बी की और 23 680 शीशियां दी गई हैं। आंध्र प्रदेश, हरियाणा, और कई ऐसे राज्य हैं जहां 75 फीसदी से ज्यादा दवा दी गईं हैं।
दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में अब तक ब्लैक फंगस के तकरीबन 20 से ज्यादा केस आ गए हैं। अस्पताल के निदेशक डॉ. सुरेश कुमार ने कहा कि 21 केसों में से 13 मरीज कोविड-19 से संक्रमित हैं। वहीं दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री Satyendra jain ने दिल्ली की जनता को सतर्क रहने के लिए कहा हैं।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है