वायुसेना की ताकत अब और बढ़ने वाली है दरअसल एक महीने के भीतर वायु सेना में 10 और राफेल विमान शामिल होने वाले हैं। अत्याधुनिक तकनीक से लैस इन विमानों के वायुसेना के बेड़े में शामिल होने से राफेल की संख्या बढ़कर 21 हो जाएगी। देश में पहले ही 11 राफेल आ चुके हैं जो अंबाला स्क्वाड्रन में हैं

मिली जानकारी के मुताबिक फ्रांस से आने वाले नए राफेल विमानों को अंबाला बेस में रखा जाएगा। इनमें से कुछ  राफेल को बंगाल के हाशिमारा बेस पर भेजा जाएगा। जहां दूसरी स्क्वाड्रन बनाने की प्रक्रिया शुरु की जा चुकी है। बता दें कि हाशिमारा एयर फोर्स स्टेशन भूटान के पास है जो तिब्बत से महज 384 किलोमीटर दूर है। बता दें कि भारत ने सितंबर 2016 में फ्रांस से 36 राफेल जेट खरीदे थे अप्रैल 2021 तक इस ऑर्डर के तहत आधे से ज्यादा राफेल की डिलीवरी पूरी होनी है।

मेट्रोमैन श्रीधरन नहीं हो सकते केरल का राजनीतिक भविष्य- थरूर

सरकारी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अगले दो से तीन दिनों के भीतर तीन राफेल विमान फ्रांस से भारत पहुंचेंगे जिनमें ईंधन हवा में ही भरा जाएगा फिर अप्रैल महीने में 7 से 8 राफेल विमान और ट्रेनर वर्जन भारत आएंगे जिससे भारतीय वायुसेना के ऑपरेशन में मदद मिलेगी

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है