भारत ने चीन बॉर्डर पर Pinaka Rocket Launcher किया तैनात, जानें वजह

0
330

भारत देश लगातार चीन से मुक़ाबला करता रहता है। अपनी कोशिशों में नाक़ामयाब होने के बाद भी चीन अपनी हरकतों से बाज़ नहीं आ रहा है। लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर चीन के साथ जारी सीमा विवाद को देखते हुए भारत ने बॉर्डर पर Pinaka Rocket Launcher तैनात कर दिए हैं। आपने Pinaka Rocket Launcher के बारें में सुना तो होगा लेकिन इस Rocket Launcher के बारे में ख़ास बातें हम आपको बताते हैं।

  • इस Launcher का नाम भगवान शिव के धनुष पिनाक के नाम पर रखा गया है।
  • मल्टीपल Rocket Launcher Pinaka को पूरी तरह से भारत में भारत द्वारा बनाया गया है।
  • डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट आर्गेनाइजेशन ने इसे विकसित किया है।
  • Pinaka Rocket का सबसे कमजोर वेरिएंट MK-1 45 किलोमीटर दूर के टारगेट को भी आसानी से भेद सकता है।
  • MK-2 Launcher की बात करें तो 90 किलोमीटर और सबसे उन्नत MK-3 Launcher से 120 किलोमीटर तक हमला किया जा सकता है।
  • यह रॉकेट 100 किलोग्राम तक के वजन के हथियार उठाने में सक्षम हैं। Launcher की लंबाई 16 फीट 3 इंच से लेकर 23 फीट 7 इंच तक है।
  • 214 कैलिबर के इस लॉन्चर से एक साथ 12 Pinaka Rocket दागे जा सकते हैं।
  • एक Launcher बैटरी के जरिए 44 सेकेंड में 72 Pinaka Rocket दागे जा सकते हैं।
  • Pinaka Rocket की स्पीड करीब 5757 किलोमीटर प्रतिघंटा है। माने सेकेंड्स में यह दुश्मनों को राख में तब्दील करने में सक्षम है।
  • 1999 में पाकिस्तान के साथ कारगिल युद्ध में Pinaka Launcher का इस्तेमाल किया गया था। उस दौरान इसे ऊंचाई वाले इलाको में भेजा गया था जहां इस रॉकेट ने पाकिस्तान द्वारा बनाए बंकरों को ध्वस्त कर दिया था।
  • अपनी स्पीड की वजह से Pinaka Launcher दुश्मनों को संभलने का वक्त ही नहीं देता है।

यह भी पढ़ें – अब Faizabad Railway Station हुआ ‘अयोध्या कैंट’

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है