गेहूं के Export पर भारत ने तत्काल प्रभाव से लगाया प्रतिबंध

0
144

हमेशा से देखा जाता है कि पहले इंसान अपने बारे में सोचता है फिर किसी दूसरे के बारे में, ऐसा सोचना सही भी है ख़ुद भूखे रहकर दूसरे का पेट भरना उचित भी नहीं है। भारत ने तत्काल प्रभाव से गेहूं के निर्यात(Export) पर प्रतिबंध लगा दिया है। सरकार ने शुक्रवार(13 मई) देर रात जारी एक अधिसूचना में इसे दुनिया के दूसरे सबसे बड़े गेहूं उत्पादक देश के द्वारा स्थानीय कीमतों पर लगाम लगाने की एक कोशिश की शुरुआत कर दी है।

सरकार ने कहा है कि पहले जारी किए जा चुके लेटर ऑफ क्रेडिट के लिए गेहूं के शिपमेंट की अनुमति रहेगी। बता दें कि फरवरी के अंत में रूस द्वारा यूक्रेन पर आक्रमण करने के बाद से काला सागर क्षेत्र से Export गिरने के बाद वैश्विक खरीदार गेहूं की आपूर्ति के लिए भारत पहुंच रहे थे।

अब देश में हालात बदल गए हैं। एमएसपी से अधिक कीमत में गेहूं की खरीद और पैदावार में कमी के कारण सरकारी खरीद प्रभावित हुई है। सरकार ने अब गेहूं के Export पर पाबंदी लगा दी है। आपको बता दें कि इन दिनों बाजार में गेहूं न्यूनतम समर्थन मूल्य से अधिक कीमत पर बिक रहा है। इससे पहले केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने 15 अप्रैल को एक ट्वीट में कहा था कि भारतीय किसान दुनिया के पेट भर रहे हैं। मिस्र ने भारत से गेहूं के इम्पोर्ट को मंजूरी दी है। दुनिया में बढ़ती मांग को देखते हुए वित्त वर्ष 2022-23 में गेहूं का Export 100 लाख (10 मिलियन) टन पार कर जाएगा।

यह भी पढ़ें – Congress नवसंकल्प शिविर का हुआ आगाज़, जानें क्या हैं 9 बड़े प्लान

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है