UP के इन ग्रामीण क्षेत्रों में नल से Paani के कनेक्शन को मिली मंजूरी

0
204

आज भी ऐसे कई इलाक़े हैं जहां लोगों को Paani प्राप्त करने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है। UP के बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र समेत प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिये केन्द्र सरकार ने UP सरकार की 735 पेयजल आपूर्ति योजनाओं मंजूरी प्रदान कर दी है।

UP सरकार अगले महीने से बुंदेलखंड और विध्ंय क्षेत्र के गांवों में नल से जलापूर्ति शुरू करने की तैयारी में है। मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से शुक्रवार को यह जानकारी दी गई। इसके अनुसार केन्द्र सरकार की राज्यस्तरीय योजना स्वीकृति समिति ने गुरुवार को ग्रामीण क्षेत्रों में नल से Paani के कनेक्शन के लिए UP सरकार की ओर से भेजे गए 1,882 करोड़ रुपये के प्रस्तावों को मंजूरी दे दी है।

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने भी ट्वीट कर UP में ‘हर घर नल’ योजना की प्रगति की तारीफ की है। शेखावत ने कहा, ‘ UP ने हर घर नल से जल योजना को जन आंदोलन बना दिया है। UP में हर घर नल से जल का अभियान पूरी तरह जन आंदोलन में बदल गया है। राज्य में 1882 करोड़ रुपये के प्रस्ताव स्वीकृत किए गए हैं ताकि गांवों में आसानी से नल कनेक्शन पहुंचाए जा सके। इससे 1262 गांवों के 39 लाख लोगों को लाभ मिलेगा। उल्लेखनीय है कि समिति ने 735 योजनाओं को स्वीकृति प्रदान की है। इसके तहत 4.03 लाख ग्रामीण परिवारों को Paani के कनेक्शन दिए जाने की योजना है।

मौजूदा समय में प्रदेश में 2.64 करोड़ में से कुल 34 लाख (12.9%) ग्रामीण परिवारों को उनके घरों तक नल का Paani मिल रहा है। UP में युद्ध स्तर पर हर घर को नल से जल देने की योजना पर तेजी से काम किया जा रहा है। सरकार अगले महीने बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र के सैकड़ों गांवों में हर घर को नल से जल देने की शुरुआत करने जा रही है। इसके लिए कई इलाकों में ट्रायल रन चल रहा है।

यह भी पढ़ें – भारत ने उठाया सख़्त क़दम, अब इन देशों को नहीं मिलेगा India का E-Visa

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है