Diwali कैसे होगी धमाकेदार, लगातार पड़ रही है महंगाई की मार

0
279

एक तरफ त्यौहार क़रीब आ रहे हैं वहीं लोगों की परेशानी लगातार बढ़ती जा रही है। इस Diwali पर महंगाई आम लोगों की रसोई पर असर डालेगी। दरअसल, त्यौहार से पहले आटा, चावल, तेल, दूध समेत कई खाद्यान्न के दाम पांच से 10 फीसदी बढ़ गए हैं, जिसका असर उपभोक्ताओं की जेब पर पड़ेगा। दूध महंगा होने से इससे बनने वाले उत्पाद भी महंगे हो सकते हैं।

बढ़ती महंगाई से खासकर गृहणियां चिंतित हैं। अमूल और मदर डेरी ने दूध के रेट में दो रुपये की बढ़ोतरी की है। दो महीने के अंदर यह दूसरी बढ़ोतरी है। अब दूध की कीमत 61 से बढ़कर 63 रुपये लीटर पहुंच गई है। कारोबारी ने बताया कि दूध दो दिन पहले महंगा हुआ है। जिसके चलते दही, मक्खन और मट्ठा भी महंगा हो गया है। आने वाले दिनों में मिठाइयां भी महंगी हो सकती हैं।

आटा और चावल एक हफ्ते में 10 फीसदी तक महंगा हो गया है। सामान्य चावल के दाम में चार से पांच जबकि ब्रांडेड चावल का रेट 10 रुपये किलो तक बढ़ गया है। साथ ही दालें भी महंगी हो गई हैं। एक हफ्ते के अंदर कुछ दालों की कीमत दो से पांच रुपये तक बढ़ी है। वहीं राजमा-छोले के दाम ज्यादा बढ़े हैं।

तेल और घी पर भी महंगाई का तड़का लगा है। व्यापारी ने बताया कि करीब एक हफ्ते में सरसों और रिफाइंड तेल के 15 लीटर के कनस्तर में 200 से 220 रुपये का इजाफा हुआ है। सरसों का कनस्तर 2200 और रिफाइंड तेल का कनस्तर 2150 रुपये का मिल रहा है। तेल में पांच से सात रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। सरसों तेल 155 से 160 रुपये लीटर और रिफाइंड 155 रुपये लीटर तक पहुंच गया है। दूध के रेट बढ़ने से घी भी महंगा हुआ है। घी की कीमत पांच सौ से छह सौ रुपये किलो है।

Diwali पर इलेक्ट्रॉनिक्स का सामान अभी खरीद लीजिए, आने वाले दिनों में दाम बढ़ सकते हैं। पलटन बाजार के दुकानदार ने बताया कि कंपनियों ने रेट 5-10 फीसदी बढ़ाए हैं।

यह भी पढ़ें – आपको भी जाना है दिवाली पर घर तो आज से ही करें बुकिंग, नॉन स्टाप चलेंगी Special Buses

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है