Hijab विवाद पहुंचा Supreme Court, सिब्बल बोले – तुरंत सुनवाई की ज़रूरत

0
315

कई दिनों के हंगामें के बाद भी कर्नाटक में खड़ा हुआ Hijab विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब Hijab विवाद सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। SC ने गुरुवार(10 फरवरी) को कहा कि वह इस मामले को Karnataka High Court से ख़ुद को स्थानांतरित करने को लेकर दायर याचिका को सूचीबद्ध करने की मांग पर विचार करेगा। मुख्य न्यायाधीश एन वी रमना की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि यह मामला अभी उच्च न्यायालय मामले के पास है। High Court को सुनवाई जारी रखने और फैसला करने की इजाज़त दी जानी चाहिए।

Hijab विवाद को लेकर तनाव के मद्देनजर राज्य सरकार ने मंगलवार को राज्य के सभी हाई स्कूल और कॉलेजों को तीन दिन के लिए बंद करने का आदेश दिया था, जिसके बाद शैक्षणिक संस्थानों में बुधवार को शांति रही। सूत्रों ने कहा कि उनमें से ज्यादातर पठन-पाठन के ऑनलाइन मोड में लौट आए। CM Basavaraj Bommai ने कहा, “मैं प्राथमिक व माध्यमिक शिक्षा मंत्री बीसी नागेश, राज्य के गृह मंत्री और अधिकारियों के साथ बैठक करूंगा, ताकि जो कुछ भी हुआ उस पर संक्षेप में चर्चा की जा सके। सभी हाई स्कूल और कॉलेजों को बंद करने की अवधि बढ़ाने पर आज शाम को निर्णय लिया जाएगा।”

सीनियर वकील Kapil Sibal ने मामले को स्थानांतरित करने और सुप्रीम कोर्ट में नौ-न्यायाधीशों की पीठ की ओर से सुनवाई की मांग रखी। सिब्बल ने कहा कि ‘समस्या यह है कि स्कूल और कॉलेज बंद हैं। लड़कियों पर पथराव किया जा रहा है। यह पूरे देश में फैल रहा है।’ Kapil Sibal के यह कहे जाने के बाद कि वह कोई आदेश नहीं चाहते हैं और केवल याचिका को सूचीबद्ध करना चाहते हैं, सीजेआई ने कहा, “हम देखेंगे।”

राज्य के शैक्षणिक संस्थानों में Hijab पहनने से रोके जाने को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर उच्च न्यायालय की पूर्ण पीठ आज सुनवाई करेगी। मुख्य न्यायाधीश रितु राज अवस्थी ने बुधवार रात को इस मामले की सुनवाई के लिए पूर्ण पीठ गठित की, जिसमें उनके अलावा न्यायमूर्ति कृष्ण एस दीक्षित और न्यायमूर्ति के जे मोहिउद्दीन शामिल हैं। इससे पहले, इस मामले की सुनवाई कर रहे कर्नाटक उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति दीक्षित की एकल पीठ ने बुधवार को इस मामले को मुख्य न्यायाधीश रितु राज अवस्थी के पास भेज दिया था।

यह भी पढ़ें – संसद में टोपी पहन सकते हैं तो कॉलेज में Hijab क्यों नहीं :Asaduddin Owaisi

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है